हेमंत सोरेन पर भड़के कई राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री, पीएम मोदी पर निशाना साधकर विवादों में घिरे, सियासी घमासान

Narendra Modi vs Hemant Soren: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधकर झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन विवादों में घिर गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधकर झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन चौतरफा विवादों में घिर गए हैं। हेमंत की सख्‍त टिप्‍पणी पर भड़की भाजपा के नेताओं ने इसे ओछी हरकत बताया है। बीजेपी ने सीएम हेमंत सोरेन को फेल मुख्‍यमंत्री बताया।

रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधकर झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन चौतरफा विवादों में घिर गए हैं। हेमंत की सख्‍त टिप्‍पणी पर भड़की भाजपा के नेताओं ने इसे ओछी हरकत बताया है। बीजेपी ने सीएम हेमंत सोरेन को फेल मुख्‍यमंत्री बताया। हेमंत सोरेन ने बीती रात ट्वीट कर पीएम मोदी के बारे में कहा था कि वे सिर्फ बोलते हैं, सुनते नहीं। हेमंत के इस ट्वीट के बाद भाजपा नेता और असम के मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, नगालैंड, मणिपुर के सीएम, झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री बाबूलाल मरांडी समेत अन्य भाजपा नेताओं ने उन पर करारा हमला बोला।

हिमंत बिस्‍वा सरमा ने ट्विटर पर हेमंत सोरेन की टिप्‍पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा-  हेमंत सोरेन जी, आपका यह ट्वीट न सिर्फ न्यूनतम मर्यादा के खिलाफ है बल्कि उस राज्य की जनता की पीड़ा का भी मजाक उड़ा रहा है, जिनका हाल जानने के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने फोन किया था। इस तरह का बयान देकर आपने बहुत ओछी हरकत कर दी। आपने मुख्यमंत्री पद की गरिमा भी गिरा दी।

भारतीय जनता पार्टी ने हेमंत सोरेन के ट्वीट को पद की गरिमा गिराने वाला बताया है। गैर भाजपा शासित राज्‍य आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ( गैर राजग सीएम) ने हेमंत सोरेन को प्रधानमंत्री पर की गई सख्‍त टिप्‍पणी के लिए नसीहत दी है। जगन मोहन ने ट्विटर पर हेमंत सोरेन को टैग करते हुए लिखा- हेमंत सोरेन जी, मेरे मन में आपके लिए बहुत सम्मान है, लेकिन एक भाई के रूप में मैं आपसे आग्रह करूंगा, चाहे हमारे बीच कोई भी मतभेद हों, ले‍किन इस तरह की राजनीति में लिप्त होने से केवल हमारा ही राष्ट्र कमजोर होगा। कोविड -19 के खिलाफ इस युद्ध में, यह समय उंगलियां उठाने का नहीं बल्कि एक साथ आने और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत करने के लिए प्रभावी रूप से महामारी का मुकाबला करने का है।

इससे पहले झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर अपने संदेश में लिखा- आज आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मुझे फोन किया। लेकिन उन्होंने सिर्फ अपने मन की बात की। हेमंत ने कहा कि बेहतर होता यदि वो काम की बात करते और काम की बात सुनते। हेमंत सोरेन के ट्वीट पर भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कड़ा एतराज जताते हुए हेमंत को फेल मुख्‍यमंत्री बताया है।

असम के मुख्‍यमंत्री सर्वानंद सोनेवाल ने सीएम हेमंत सोरेन के ट्वीट पर कड़ी आपत्ति जताई। उन्‍होंने हेमंत सोरेन को टैग करते हुए लिखा- यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि आप माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की चिंता और लोगों के लिए किए जा रहे काम का राजनीतिकरण करने का प्रयास कर रहे हैं। पीएम मोदी जी का हर प्रयास और कार्य केवल जनता और राष्ट्र के लिए है।

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा है कि हेमंत सोरेन जी शायद अपने पद की गरिमा को भूल गए हैं। कोरोना वायरस संक्रमण से उत्पन्न स्थिति को लेकर देश के प्रधानमंत्री पर कोई बयान देते समय उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि इस महामारी का अंत सामूहिक प्रयासों से ही संभव है। अपनी नाकामी छिपाने के लिए अपने मन की भड़ास पीएम मोदी पर निकालना निंदनीय है। केंद्र सरकार ने कोरोना संकट काल में जहां गरीबों और जरूरतमंदों के लिए खजाने खोल दिए हैं, वहीं झारखंड सरकार ने अपने खजाने  का मुंह बंद कर रखा है। हेमंत सोरेन जी चाहते हैं कि हर काम केंद्र सरकार करे। कोरोना से लड़िए, पीएम मोदी से नहीं।

नागालैंड के मुख्‍यमंत्री नेफियू रियो ने हेमंत सोरेन को नसीहत देते हुए लिखा-  बतौर मुख्यमंत्री मैंने कई कार्यकाल पूरे किए। मेरे अनुभव के हिसाब से माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा राज्यों की चिंताओं के प्रति संवेदनशील रहे हैं। खासकर पूर्वोत्तर राज्यों को लेकर। हेमंत सोरेन जी मैं आप से असहमत हूं। और मुझे उम्मीद है कि आप अपना बयान वापस ले लेंगे।

बाबूलाल मरांडी ने हेमंत सोरेन के ट्वीट पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वे एक असफल सीएम हैं। उनके शासन में विफलता। राज्य में कोविड से निपटने में विफलता। लोगों की सहायता करने में विफलता। अपनी असफलताओं को छुपाने के लिए वह अपने पद की गरिमा धूमिल कर रहे हैं। जागो और काम करो, हेमंत सोरेन। घड़ी चल रही है।

बाबूलाल ने एक पर एक कई ट्वीट कर हेमंत सोरेन को बचपने से बाहर आने की हिदायत दी। बाबूलाल ने लिखा- वैश्विक महामारी के बीच माननीय मुख्यमंत्री जी अपने दायित्वों से बचने के लिए झारखंड की जनता को लगातार गुमराह कर रहें हैं। माननीय प्रधानमंत्री जी के झारखंड के प्रति अपनी प्रतिबद्दता और प्रयासों को झुठलाने के आपके इस ओछे हरकत पर आज झारखंडी शर्मिंदा हैं। आपके इस बचकाना एवं गैर जिम्मेदाराना, निरंकुश ट्वीट की देश ही नहीं दुनिया में थू-थू हो रही है। झारखंड की संस्कृति में झूठ, फरेब की कोई जगह नहीं है, ईश्वर आपको सद्बुद्धि दें, संयमित रखें और जिम्मेदार बनाएं।