रिद्धि डोगरा ने क्यों कहा- 'कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं हो सकता', ‘अ मैरिड वुमन’ को लेकर बोली ये बात

टीवी अभिनेत्री रिद्धि डोगरा, Instagram : iridhidogra
तकनीकी हो या रचनात्मक हर क्षेत्र में ज्यादातर पदों पर उपयुक्त उम्मीदवार का चयन उसके बायोडाटा के आधार पर ही किया जाता है लेकिन कलाकारों के मामले में उनका काम ही बायोडाटा होता है यह मानना है ‘मर्यादा लेकिन कब तक’ और ‘सावित्री’ जैसे धारावाहिकों की अभिनेत्री रिद्धि डोगरा का।

नई दिल्ली। तकनीकी हो या रचनात्मक, हर क्षेत्र में ज्यादातर पदों पर उपयुक्त उम्मीदवार का चयन उसके बायोडाटा के आधार पर ही किया जाता है, लेकिन कलाकारों के मामले में उनका काम ही बायोडाटा होता है, यह मानना है ‘मर्यादा: लेकिन कब तक’ और ‘सावित्री’ जैसे धारावाहिकों की अभिनेत्री रिद्धि डोगरा का।

वे बीते दिनों जी5 पर रिलीज हुई वेब सीरीज ‘अ मैरिड वुमन’ में आस्था के किरदार में नजर आईं, जो कि मंजू कपूर द्वारा लिखित इसी नाम की किताब पर आधारित है। रिद्धि बताती हैं, ‘इस शो का प्रोमो तो हमने पिछले साल जनवरी में ही रिलीज कर दिया था, और हमारी योजना पिछले साल मार्च-अप्रैल तक इस शो की शूटिंग खत्म करने की थी, लेकिन बीच में लॉकडाउन और महामारी आ गई जिससे सारी योजनाओं पर पानी फिर गया।'

अभिनेत्री ने आगे कहा, 'जब मुझे इस शो का प्रस्ताव मिला था तो मैं बहुत खुश हुई। निर्माता-निर्देशक ने मुझे किताब पढ़ने के लिए कहा। किताब पढ़कर मुझे बहुत सुकून मिला। बतौर कलाकार हम खुद जानते हैं कि हमारी क्षमता क्या है। हमारा काम ही हमारा बायोडाटा होता है। अगर मैं सिर्फ यही बोलती रहूं कि मैं बहुत अच्छी अभिनेत्री हूं, मुझे काम दो, उसका कोई मतलब नहीं है। अगर कलाकार अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन नहीं कर सकता, तो उस प्रतिभा का क्या फायदा? इस शो में मुझे लीड किरदार निभाने का मौका मिल रहा था, इसलिए इस शो को मिलने के बाद मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।’

इस शो में महिलाओं की व्यक्तिगत इच्छाओं के विषय में बात की गई है। इस पर रिद्धि का कहना है, ‘पता नहीं क्यों लोग महिलाओं से सर्वगुण संपन्न होने की उम्मीद रखते हैं। महिलाएं घर में रीढ़ की हड्डी की तरह होती हैं। वर्षों से वह पूरे घर को एकसाथ जोड़कर रखती चली आई हैं। शायद यही वजह है लोग महिलाओं से कुछ ज्यादा ही उम्मीदें लगाकर बैठे होते हैं।'

अभिनेत्री ने आगे कहा, ‘तुम सब कुछ संभाल लोगी’, वाक्य महिलाओं के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग किए जाते हैं। आखिर महिलाएं भी इंसान होती हैं और कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं हो सकता। ऐसे में सिर्फ किसी महिला से ही नहीं, दुनिया के किसी भी इंसान के परफेक्ट होने की उम्मीद रखना गलत है।’ रिद्धि आगामी दिनों में ‘असुर 2’ समेत कुछ अन्य वेब सीरीज में भी नजर आएंगी।