सरकारी अस्पताल के डॉक्टर ने सांसद से कहा, सरकार ने कम टेस्टिंग के दिए निर्देश; वीडियो वायरल होने पर डॉक्टर को नोटिस

 

सरकारी अस्पताल के डॉक्टर ने सांसद से कहा, सरकार ने कम टेस्टिंग के दिए निर्देश। फाइल फोटो

सरकारी अस्पताल के डॉक्टर पवन गुप्ता ने सांसद रंजीता कोली के समक्ष खुलासा किया कि राज्य सरकार ने संक्रमितों और मौतों की संख्या कम दर्शाने के निर्देश दिए हैं। सांसद और गुप्ता की इस बातचीत का किसी ने मोबाइल से वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया।

 संवाददाता, जयपुर।  राजस्थान में पिछले पांच दिन से कोरोना संक्रमितों और मौतों की संख्या मे कमी आ रही है। चिकित्सा विभाग की ओर से जारी अधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में संक्रमण की दर 10 फीसद रह गई है। इसी बीच, भरतपुर जिले के नदबई स्थित सरकारी अस्पताल के डॉक्टर पवन गुप्ता ने क्षेत्रीय सांसद रंजीता कोली के समक्ष खुलासा किया कि राज्य सरकार ने संक्रमितों और मौतों की संख्या कम दर्शाने के निर्देश दिए हैं। सांसद और गुप्ता की इस बातचीत का किसी ने मोबाइल से वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया। जब वीडियो वायरल हुआ तो सरकार में खलबली मच गई। चिकित्सा सचिव के निर्देश पर भरतपुर के चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कप्तान सिंह ने गुप्ता को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया।

नोटिस में कहा गया कि उनके बयान से सरकार की छवि खराब हुई है। दरअसल, दो दिन पहले सांसद कोली अपने संसदीय क्षेत्र भरतपुर के नदबई के दौरे पर थी। इस दौरान वे स्थानीय सरकारी अस्पताल में पहुंची। इस दौरान वहां मौजूद एक मरीज ने सांसद से कहा कि उनकी कोरोना जांच नहीं हो रही है। इस पर सांसद ने अस्पताल के प्रभारी डॉ. पवन गुप्ता से सैंपलिंग नहीं करने के बारे में पूछा। इस पर डॉ. गुप्ता ने जवाब दिया कि राज्य सरकार ने कोरोना के टेस्ट कम कर दिए हैं। कम जांच के निर्देश दिए गए हैं। आंकड़े भी कम बताने हैं। डॉ. गुप्ता ने कहा कि ज्यादा केस आते हैं तो सैंपलिंग बंद हो जाती है और कम आते हैं तो फिर शुरू करने के निर्देश मिल जाते हैं।

इस पर सांसद ने कहा कि आंकड़े छिपाने के साथ ही कम टेस्ट कर के गलत किया जा रहा है। कोरोना फैलेगा तो इस पर काबू पाना मुश्किल होगा। नोटिस मिलने के बाद डॉ.गुप्ता ने अपनी सफाई में कहा कि वीडियो में मेरी बातों को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। मैंने राज्य सरकार व कोराना टेस्टिंग को लेकर कोई बात ही नहीं की थी । उधर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने बुधवार को कहा कि सरकार सही ढंग से कोरोना पर नियंत्रण नहीं कर पा रही। सरकार टेस्टिंग कम कर आंकड़े कम दिखा रही है, जबकि अभी संक्रमण पर काबू नहीं पाया जा सका है।