बड़ी पहल : इंग्लैंड दौरे पर जाने वाली महिला क्रिकेटर का कोलकाता में कुछ घंटों में बना नया पासपोर्ट


महिला क्रिकेटर इंद्रानी राय को पासपोर्ट प्रदान करते क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी बिभूति भूषण कुमार।

इंग्लैंड के दौरे पर जाने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम की एक खिलाड़ी को महज कुछ घंटों के अंदर नया पासपोर्ट उपलब्ध कराकर मिसाल कायम की है। यह सबकुछ क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी बिभूति भूषण कुमार की तत्परता व पहल से संभव हुआ।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। कोलकाता स्थित क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय ने इंग्लैंड के दौरे पर जाने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम की एक खिलाड़ी को महज कुछ घंटों के अंदर नया पासपोर्ट उपलब्ध कराकर मिसाल कायम की है। यह सबकुछ क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी बिभूति भूषण कुमार की तत्परता व पहल से संभव हुआ। दरअसल, भारतीय महिला क्रिकेट टीम अगले महीने इंग्लैंड के दौरे पर जा रही है। इस टीम में हावड़ा की रहने वाली इंद्रानी राय का भी चयन किया गया है, जो झारखंड की महिला क्रिकेट टीम से विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में खेलती हैं। लेकिन उनके पास पासपोर्ट नहीं था।

सोमवार को इंद्राणी ने पासपोर्ट के लिए आवेदन किया और क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय ने तत्परता दिखाते हुए इसी दिन इसकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी। इसके बाद शाम को पासपोर्ट बनाकर भी इंद्रानी को सौंप दिया गया। खुद क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी बिभूति भूषण कुमार ने इंद्राणी को उनका पासपोर्ट अपने हाथों से सौंपा। इस मौके पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) की भारतीय महिला क्रिकेट टीम की चयनकर्ता मिठु मुखर्जी भी मौजूद रहीं। वहीं, पासपोर्ट कार्यालय की इस कार्यशैली व तत्परता को देख खुद इंद्रानी भी हैरान रह गईं और उन्होंने इसके लिए क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी का आभार जताया।

दरअसल खुद इंद्राणी को भी भरोसा नहीं था कि इतनी जल्दी व एक दिन में उनका नया पासपोर्ट बन सकता है। इधर, क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी कुमार ने बताया कि पूर्ण लॉकडाउन के दौरान भी पासपोर्ट कार्यालय खुला और इंद्रानी राय के पासपोर्ट बनाने की प्रक्रिया पूरी की, ताकि वह अपने खेल पर ध्यान दे सकें।

बताते चलें कि कुमार के नेतृत्व में क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय निरंतर पासपोर्ट आवेदकों को कम से कम समय में सेवा उपलब्ध कराने में तत्परता से जुटा है। कागजात सही रहने पर आम लोगों को भी अब महज दो से तीन दिन में नया पासपोर्ट उपलब्ध करा दिया जाता है। यहां बता दें कि 2016 में विभूति भूषण कुमार ने जब से क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी का प्रभार संभाला है, उन्हें पूरे बंगाल में पासपोर्ट सेवा केंद्र व डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र का जाल बिछाने का श्रेय जाता है।