सागर हत्याकांड में मुख्य आरोपित ओलंपियन सुशील को झटका, जमानत याचिका खारिज

 

Wrestler Sagar Dhankar Murder Case: अग्रिम जमानत के लिए ओलंपियन सुशील कुमार पहुंचा रोहिणी कोर्ट

सागर धनखड़ हत्याकांड में मुख्य आरोपित ओलंपियन सुशील कुमार ने गिरफ्तारी से बचने की कवायद के तहत बाहरी दिल्ली स्थित रोहिणी कोर्ट का रुख किया है। सुशील कुमार ने अपने वकील के जरिये रोहिणी कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दाखिल की है।

नई दिल्ली , पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में मुख्य आरोपित ओलंपियन सुशील कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर रोहिणी कोर्ट में सुनवाई जारी है। दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने अग्रिम जमानत पर फैसला सुरक्षित रख लिया है, जिस पर 4 बजे निर्णय सुनाया जाएगा। बता दें कि गिरफ्तारी से बचने की कवायद के तहत बाहरी दिल्ली स्थित रोहिणी कोर्ट का रुख किया है। सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस ने बताया कि सुशील कुमार का पासपोर्ट सीज नहीं किया गया है, लेकिन जब्त जरूर किया गया है। सुशील कुमार ने अपने वकील के जरिये रोहिणी कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दाखिल की है। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने पहलवान सुशील कुमार पर सोमवार को ही 1 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की थी। 

मंगलवार को सुनवाई के दौरान सुशील कुमार के वकील ने कहा कि वह अर्जुन अवार्डी है। ओलंपिक में कई मेडल जीत चुका है। इस पर दिल्ली पुलिस ने कहा कि जहां तक सुशील के अवार्ड जीतने की बात है उस पर हमें गर्व है। हमने पासपोर्ट इसलिए रख लिया है, क्योंकि हमें डर था कि कहीं वह देश से भाग न जाए।

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से पूछा कि आखिर उसकी गिरफ्तारी क्यों जरूरी है? इस पर दिल्ली पुलिस ने कहा कि उसके कई कारण है। सुशील की पत्नी के पास एक फ्लैट था, जहां दूसरे आरोपी (सोनू और एक और) रह रहे थे।

हमारे पास ऐसे इलेक्ट्रॉनिक सबूत हैं, जहां सुशील को मारपीट करते हुए देखा जा सकता है।

अदालत ने सुशील कुमार के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। इसलिए कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुए हमें उसे गिरफ्तार करना होगा- दिल्ली पुलिस

सागर धनखड़ की हत्या में ओलंपियन सुशील कुमार समेत कुल 11 पहलवान व बदमाश शामिल थे, जिनमें अब तक केवल एक प्रिंस दलाल को ही पुलिस गिरफ्तार कर पाई है। सुशील समेत 10 आरोपित फरार हैं। छत्रसाल स्टेडियम के सीसीटीवी फुटेज और चश्मदीदों से पूछताछ के बाद पुलिस इस निष्कर्ष पर पहुचीं है कि सागर की हत्या में कुल 11 आरोपित शामिल थे, जिसमें सुशील कुमार मुख्य आरोपित है।