चीन ने आस्ट्रेलियाई नागरिक को राजदूत से नहीं मिलने दिया, जासूसी के आरोप में शुरू होने वाला था मुकदमा

 

चीन ने आस्ट्रेलियाई नागरिक को राजदूत से नहीं मिलने दिया। (फोटो: दैनिक जागरण)


बीजिंग, एपी।
 चीन में आस्ट्रेलियाई राजदूत ने कहा कि यह खेदजनक है कि उनको गुरुवार को अदालत में प्रवेश से वंचित कर दिया गया, क्योंकि चीनी मूल के आस्ट्रेलियाई व्यक्ति के खिलाफ जासूसी के आरोप में मुकदमा शुरू होने वाला था।आस्ट्रेलियाई सरकार ने कहा है कि यांग हेंगजुन को जनवरी 2019 में चीन पहुंचने के बाद से हिरासत में रखा गया है। परिवार तक उनकी कोई पहुंच नहीं है और केवल उनके वकील के साथ सीमित संपर्क है।राजदूत ग्राहम फ्लेचर बीजिंग में कोर्ट परिसर के दक्षिणी द्वार तक गए और फिर प्रवेश से वंचित होने के बाद वापस बाहर आ गए। चीनी मूल के आस्ट्रेलियाई नागरिक पर जासूसी के आरोप में शुरू होने वाला था मुकदमा। राजदूत ग्राहम फ्लेचर बीजिंग में कोर्ट परिसर तक गए और फिर लौट आए। आस्ट्रेलियाई सरकार ने कहा है कि यांग हेंगजुन को जनवरी 2019 में चीन पहुंचने के बाद से हिरासत में रखा गया है।

आस्ट्रेलियाई सरकार को पहले बताया गया था कि किसी प्रतिनिधि को मुकदमे में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी, क्योंकि यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है।फ्लेचर ने संवाददाताओं से कहा, यह बेहद खेदजनक और असंतोषजनक है। हमें इस मामले के बारे में लंबे समय से चिंता है। इसमें पारदर्शिता की कमी भी शामिल है। हमने निष्कर्ष निकाला है कि यह एक मनमानी हिरासत है। अधिकारियों ने यांग के खिलाफ आरोपों का कोई विवरण जारी नहीं किया है।ह मुकदमा ऐसे समय में सामने आया है, जब दोनों देशों के बीच संबंध बिगड़ रहे हैं। चीन ने बीफ, वाइन, कोयला, झींगा मछली, लकड़ी और जौ सहित आस्ट्रेलियाई निर्यात को रोक दिया है। एक करीबी पारिवारिक मित्र फेंग चोंग्यी ने हाल ही में यांग के खिलाफ मामले को राजनीतिक उत्पीड़न और राजनीतिक उद्देश्यों के लिए गढ़ा हुआ बताया। फेंग ने कहा, बीजिंग उसे दंडित करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। आस्ट्रेलिया और चीन के बीच मौजूदा खराब संबंधों को देखते हुए मुझे गहरी चिंता है कि यांग को कठोर सजा दी जाएगी।

बाइडन ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से जांच के प्रयास बढ़ाने को कहा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से कोरोना महामारी की उत्पत्ति की जांच के अपने प्रयासों को दोगुना करने के लिए कहा।उन्होंने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के लिए सुबूत अपर्याप्त हैं कि क्या यह किसी संक्रमित जानवर के साथ मानव संपर्क से उभरा है या प्रयोगशाला में हुई दुर्घटना से उभरा है।

यह मुकदमा ऐसे समय में सामने आया है, जब दोनों देशों के बीच संबंध बिगड़ रहे हैं। चीन ने बीफ, वाइन, कोयला, झींगा मछली, लकड़ी और जौ सहित आस्ट्रेलियाई निर्यात को रोक दिया है। एक करीबी पारिवारिक मित्र फेंग चोंग्यी ने हाल ही में यांग के खिलाफ मामले को राजनीतिक उत्पीड़न और राजनीतिक उद्देश्यों के लिए गढ़ा हुआ बताया। फेंग ने कहा, बीजिंग उसे दंडित करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। आस्ट्रेलिया और चीन के बीच मौजूदा खराब संबंधों को देखते हुए मुझे गहरी चिंता है कि यांग को कठोर सजा दी जाएगी।

बाइडन ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से जांच के प्रयास बढ़ाने को कहा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से कोरोना महामारी की उत्पत्ति की जांच के अपने प्रयासों को दोगुना करने के लिए कहा।उन्होंने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के लिए सुबूत अपर्याप्त हैं कि क्या यह किसी संक्रमित जानवर के साथ मानव संपर्क से उभरा है या प्रयोगशाला में हुई दुर्घटना से उभरा है।

चीन ने आस्ट्रेलियाई नागरिक को राजदूत से नहीं मिलने दिया। (फोटो: दैनिक जागरण)
Publish Date:Thu, 27 May 2021 03:06 PM (IST)Author: Shashank Pandey

चीनी मूल के आस्ट्रेलियाई नागरिक पर जासूसी के आरोप में शुरू होने वाला था मुकदमा। राजदूत ग्राहम फ्लेचर बीजिंग में कोर्ट परिसर तक गए और फिर लौट आए। आस्ट्रेलियाई सरकार ने कहा है कि यांग हेंगजुन को जनवरी 2019 में चीन पहुंचने के बाद से हिरासत में रखा गया है।

बीजिंग, एपी। चीन में आस्ट्रेलियाई राजदूत ने कहा कि यह खेदजनक है कि उनको गुरुवार को अदालत में प्रवेश से वंचित कर दिया गया, क्योंकि चीनी मूल के आस्ट्रेलियाई व्यक्ति के खिलाफ जासूसी के आरोप में मुकदमा शुरू होने वाला था।आस्ट्रेलियाई सरकार ने कहा है कि यांग हेंगजुन को जनवरी 2019 में चीन पहुंचने के बाद से हिरासत में रखा गया है। परिवार तक उनकी कोई पहुंच नहीं है और केवल उनके वकील के साथ सीमित संपर्क है।राजदूत ग्राहम फ्लेचर बीजिंग में कोर्ट परिसर के दक्षिणी द्वार तक गए और फिर प्रवेश से वंचित होने के बाद वापस बाहर आ गए। 

आस्ट्रेलियाई सरकार को पहले बताया गया था कि किसी प्रतिनिधि को मुकदमे में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी, क्योंकि यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है।फ्लेचर ने संवाददाताओं से कहा, यह बेहद खेदजनक और असंतोषजनक है। हमें इस मामले के बारे में लंबे समय से चिंता है। इसमें पारदर्शिता की कमी भी शामिल है। हमने निष्कर्ष निकाला है कि यह एक मनमानी हिरासत है। अधिकारियों ने यांग के खिलाफ आरोपों का कोई विवरण जारी नहीं किया है।

बाइडन ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से जांच के प्रयास बढ़ाने को कहा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से कोरोना महामारी की उत्पत्ति की जांच के अपने प्रयासों को दोगुना करने के लिए कहा।उन्होंने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के लिए सुबूत अपर्याप्त हैं कि क्या यह किसी संक्रमित जानवर के साथ मानव संपर्क से उभरा है या प्रयोगशाला में हुई दुर्घटना से उभरा है।