पीयूष गोयल ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रेलवे के योगदान को सराहा, कहा- इतिहास हमेशा रखेगा याद

 

24 घंटे के अंदर 12 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए छह राज्यों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) की आपूर्ति

मंत्रालय के अनुसार रेलवे ने 24 घंटे के भीतर 12 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए छह राज्यों में 969 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) की आपूर्ति सुनिश्चित की है। रेलवे द्वारा अब तक देश के विभिन्न राज्यों में 1080 से अधिक टैंकरों में 17945 टन एलएमओ पहुंचाई गई है।

नई दिल्ली, प्रेट्र। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में रेलवे के योगदान को इतिहास हमेशा याद रखेगा। रेलवे ने राष्ट्रीय आपूर्ति श्रंखला बनाए रखते हुए यह सुनिश्चित किया है कि प्रगति का पहिया तेज गति से आगे बढ़े।

वरिष्ठ अधिकारियों के साथ क्षेत्रीय एवं मंडल रेलवे के परिचालन प्रदर्शन की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि पिछले 14 महीने में रेलवे ने बेजोड़ क्षमता व कर्तव्यपरायणता का प्रदर्शन किया है। उन्होंने अधिकारियों से बजट में मिले पूंजीगत आवंटन का पूरा उपयोग करने तथा आधारभूत संरचना का काम पूरा करने का निर्देश दिया, ताकि कोविड के इस दौर में रोजगार पैदा हो सके।

मंत्रालय के अनुसार, रेलवे ने 24 घंटे के भीतर 12 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए छह राज्यों में 969 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) की आपूर्ति सुनिश्चित की है। तीन ट्रेनें तमिलनाडु, चार आंध्र प्रदेश व एक-एक दिल्ली, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, असम व केरल पहुंची हैं। इस प्रकार रेलवे द्वारा अब तक देश के विभिन्न राज्यों में 1,080 से अधिक टैंकरों में 17,945 टन एलएमओ पहुंचाई गई है। लगभग 272 ऑक्सीजन एक्सप्रेस गाड़ियों ने अपनी यात्राएं पूरी कर ली हैं। रेलवे ने माल ढुलाई में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की है। सामान्य वर्ष 2019-20 की तुलना में माल लदान में 10 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की। मई 2021 में भारतीय रेल ने माल ढुलाई से 9,278.95 करोड़ रुपये की आय अर्जित की।