कश्मीर में कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर एक निजी क्लीनिक सील, महिला डाक्टर के खिलाफ मामला दर्ज

 

पुलिस ने क्लीनिक को सील करने के साथ ही डाक्टर के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया।

बारामुला के गोखहमा कुंजर इलाके में अपोलो पॉली क्लीनिक में कोविड-19 की एसओपी का उल्लंघन होने की सूचना मिलते ही पुलिस का एक दल नायब तहसीलदार संग मौके पर पहुंचा। क्लीनिक में भीड़ जमा थी और कई लोगों के चेहरे पर मास्क भी नहीं था।

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। उत्तरी कश्मीर के बारामुला में एक महिला डाक्टर व एक निजी क्लीनिक के खिलाफ पुलिस ने कोविड-19 प्रोटोकाल भंग करने के मामले में एफआइआर दर्ज की है। इस बीच, पुलिस ने कश्मीर घाटी में अन्यत्र कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले 789 लोगों से 1.10 लाख रुपये जर्माना वसूलने के अलावा 169 लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

क्लीनिक में ट्रामा अस्पताल पट्टन में नियुक्त डा मुजम्मिल मरीजाें के स्वास्थ्य की जांच कर रही थी

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि बारामुला के गोखहमा कुंजर इलाके में अपोलो पॉली क्लीनिक में कोविड-19 की एसओपी का उल्लंघन होने की सूचना मिलते ही पुलिस का एक दल नायब तहसीलदार संग मौके पर पहुंचा। क्लीनिक में भीड़ जमा थी और कई लोगों के चेहरे पर मास्क भी नहीं था। क्लीनिक में ट्रामा अस्पताल पट्टन में नियुक्त डा मुजम्मिल मरीजाें के स्वास्थ्य की जांच कर रही थी। वह एक सरकारी डाक्टर हैं और निजी क्लीनिक में अपनी सेवाएं दे रही थी। नायब तहसीलदार के निर्देश पर पुलिस ने क्लीनिक को सील करने के साथ ही डाक्टर के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया।

कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 1.10 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया

प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस ने आज भी कश्मीर घाटी के विभिन्न हिस्सों में कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अपना अभियान जारी रखा। इस दौरान श्रीनगर, बड़गाम, बारामुला, कुलगाम, अनंतनाग समेत कश्मीर घाटी के विभिन्न शहरों व कस्बों में 789 लोगों से कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 1.10 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा 169 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। इन सभी के खिलाफ आपदा प्रबंधन और महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।