कोरोना संक्रमितों की सेवा में जुटे संघ के स्‍वयंसेवक, ऑक्सीजन से लेकर भोजन तक उपलब्‍ध करा रहे

 

RSS News, Coronavirus News, Jharkhand Samachar वाट्सएप ग्रुप बनाकर चिकित्सकों से सलाह दिलवाते हैं।

 कोरोना से संक्रमित जरूरतमंदों की सेवा का देशभर में अभियान चल रहा है। घर पर दवाएं पहुंचा रहे हैं। अंतिम संस्कार में भी सहयोग कर रहे हैं। वाट्सएप ग्रुप बनाकर चिकित्सकों से सलाह दिलवाते हैं।

रांची, । कोरोना संक्रमण काल में पूरे देश में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्वयंसेवक जरूरतमंदों की मदद में जुटे हैं। संक्रमितों के पास स्वयंसेवक ऑक्सीजन से लेकर भोजन और दवा तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं। जो लोग होम आइसोलेशन में हैं, उनतक डाॅक्टरों की सलाह, दवा, ऑक्सीजन और भोजन से लेकर उपचार व बचाव के बारे में जानकारियां भी स्वयंसेवक लगातार पहुंचा रहे हैं। अस्पतालों में खाली बेड का पता कर इस संबध में भी ये संक्रमितों के स्वजनों को जानकारी पहुंचा रहे हैं।

झारखंड सहित पूरे देश में स्वयंसेवकों ने यह अभियान चला रखा है। हजारीबाग के मिशन अस्पताल में भी ये भोजन पहुंचा रहे हैं। स्वयंसेवकों के कुछ समूह जरूरतमंद मरीजों के लिए खून और प्लाज्मा की भी व्यवस्था कर रहे हैं। इतना ही नहीं, इस आपदा काल में जिन मरीजों की जान चली जा रही है, उन्हें ये अंतिम संस्कार में भी मदद कर रहे हैं। इसके लिए इन मददगारों ने वाट्सएप ग्रुप भी बना रखा है।

हजारीबाग के विभाग प्रचारक कुणाल कुमार ने कहा कि वाट्सएप पर जहां से भी सूचना आती है, स्वयंसेवक मदद को तैयार रहते हैं। वहीं झारखंड के प्रांत प्रचार प्रमुख धनंजय सिंह ने कहा कि पूरे झारखंड में 2000 से अधिक स्वयंसेवक लोगों की मदद में प्रत्यक्ष रूप से लगे हैं, जबकि पूरे देश में हजारों स्वयंसेवक इस काम में लगे हैं। सैकड़ों स्वयंसेवक अप्रत्यक्ष रूप से भी जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। सैकड़ों चिकित्सक भी आरएसएस से जुड़कर लोगों को सहयोग कर रहे हैं।

होम आइसोलेशन वालों को भी मदद

हजारीबाग के विभाग प्रचारक कुणाल कुमार ने कहा कि घर हो अस्पताल, जो भी मरीज अकेले रहते हैं या सभी संक्रमित हैं और भोजन उपलब्ध कराने की मांग करते हैं, उनके यहां भोजन पहुंचाया जा रहा है। हजारीबाग में प्रत्येक दिन भोजन तैयार करवाकर सुबह और शाम मिलाकर 300 लोगों को भोजन पहुंचवाया जा रहा है। इस काम में 200 से अधिक स्वयंसेवक लगे हैं। भोजन तैयार करवाने में इम्यूनिटी का पूरा ध्यान रखा जाता है। इसके साथ ही अब 150 ऑक्सीजन सिलेंडर भी जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया गया है। जिनके घरों में सहयोग करने वाला कोई नहीं है, वहां दवाएं भी पहुंचवाई जा रही है। अंतिम संस्कार में भी सहयोग करने के लिए भी दर्जन भर स्वयंसेवक लगे हैं।

ऑक्सीजन और कच्चा राशन का भी इंतजाम

जमशेदपुर के विभाग प्रचारक आशुतोष कुमार ने कहा कि समाज के सहयोग से ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदकर हमलोग जरूरतमंदों को उपलब्ध कराते हैं। इसके लिए कोई राशि नहीं लेते हैं। केवल सिलेंडर के लिए सिक्युरिटी राशि देनी होती है, जो लौटा दिया जाता है। घर और अस्पताल में भोजन पहुंचाने का काम कर रहे हैं। वहीं धनबाद में कच्चा राशन भी जरूरतमंदों तक पहुंचाया जा रहा है। रांची, पलामू, गुमला, देवघर आदि शहरों में भी स्वयंसेवक जरूरतमंदों की मदद में लगे हैं।