एक दुकानदार ने ओलंपियन सुशील से मांगे थे राशन सप्लाई के पैसे तो मिली थी जान से मारने की धमकी, पहलवानों ने पीटा भी था

 

चार लाख बकाया मांगने पर सुशील ने दी थी मार डालने की धमकी।

सितंबर में भी छत्रसाल स्टेडियम में राशन आपूर्ति करने वाले एक राशन विक्रेता ने जब बकाया चार लाख रुपये देने की मांग की तब सुशील ने उसे स्टेडियम बुलाकर न केवल जान से मार डालने की धमकी दी बल्कि पहलवानों के जरिये उनकी पिटाई करा दी थी।

नई दिल्ली,  संवाददाता। ओलंपियन सुशील कई सालों से आपराधिक गतिविधियों में लिप्त हो गया था। लेकिन इसके खिलाफ पुलिसिया कार्रवाई नहीं होने के कारण आम लोग इसके कारनामे से अवगत नहीं हुए थे। सितंबर में भी छत्रसाल स्टेडियम में राशन आपूर्ति करने वाले एक राशन विक्रेता ने जब बकाया चार लाख रुपये देने की मांग की तब सुशील ने उसे स्टेडियम बुलाकर न केवल जान से मार डालने की धमकी दी बल्कि पहलवानों के जरिये उनकी पिटाई करा दी थी। पीड़ित ने मॉडल टाउन थाने में सुशील के खिलाफ शिकायत दी थी लेकिन पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की।

सतीश गोयल ने शिकायत में कहा था कि वह 18 सालों से स्टेडियम में राशन आपूर्ति कर रहे थे। जब तक सतपाल स्टेडियम का प्रशानिक काम देख रहे थे। हमेशा बिल का भुगतान हो जाता था। कभी दिक्कत नहीं हुई। सुशील के आने के बाद पेमेंट मिलने में दिक्कत आने लगी। लॉकडाउन के दौरान बीरेन्द्र पहलवान ने फोन कर उन्हें राशन देने को कहा। जिसपर उन्होंने फिर से राशन देना शुरू कर दिया।

बीरेन्द्र का तबादला हो जाने पर जब उनके चार लाख का भुगतान नहीं हुआ तब सतीश गोयल ने राशन देना बंद कर दिया। सितंबर में उन्होंने स्टेडियम जाकर अशोक से मुलाकात कर बकाया पैसे की मांग की। उन्होंने सुशील से बोल कर जल्दी पैसे दिलवा देने का भरोसा दिया। उसी दौरान धरम नाम के पहलवान ने फोन कर सतीश गोयल को बताया कि उन्हें पेमेंट के लिए सुशील, स्टेडियम में बुला रहा है। स्टेडियम आकर जब उन्होंने सुशील से मुलाकात की तो उसने उन्हें अपमानित किया और पहलवानों के जरिये बंधक बना पिटाई करा दी। डर कर पहले तो उन्होंने शिकायत नहीं की। बाद में 8 सितंबर को थाने जाकर शिकायत कर दी।