शराब पिलाकर मासूम को बेरहमी से मार डाला, हैरान कर देने वाली है हत्या की वजह

 

पिछले छह दिन से लापता था मासूम, स्वजन कर रहे थे तलाश

 एसपी नीरज कुमार जादौन ने बताया कि हाफिजपुर क्षेत्र के एक गांव से आठ वर्षीय मासूम बच्चा लापता हो गया था। स्वजन की तहरीर पर पुलिस ने अपहरण की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की थी।

हापुड़। थाना हाफिजपुर क्षेत्र के एक गांव से 12 मई को लापता हुए आठ वर्षीय मासूम बच्चे का शव मंगलवार सुबह रेलवे लाइन के पास एक खेत स्थित गढ्ढे से बरामद हुआ है। गांव के ही एक नाबालिग समेत दो आरोपितों ने मासूम की हत्या कर शव गढ्ढे में छिपा दिया था। पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। आशंका है कि हत्या से पूर्व आरोपितों ने मासूम के साथ कुकर्म किया था। मृतक के स्वजन में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

एसपी नीरज कुमार जादौन ने बताया कि हाफिजपुर क्षेत्र के एक गांव से आठ वर्षीय मासूम बच्चा लापता हो गया था। स्वजन की तहरीर पर पुलिस ने अपहरण की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की थी। मंगलवार को गांव अकड़ौली निवासी एक ग्रामीण ने अपने खेत किनारे स्थित गढ्ढे में एक बच्चे का क्षत-विक्षत शव पड़ा देखा। शव मिलने की सूचना आग की तरह आसपास के क्षेत्र में फैल गई। घटना स्थल पर ग्रामीणों का तांता लग गया। क्षत-विक्षत शव को देखकर ग्रामीण भयभीत हो गए।

सूचना के बाद वह एएसपी सर्वेश कुमार मिश्रा, सीओ पिलखुवा डा.तेजवीर सिंह, थाना हाफिजपुर प्रभारी निरीक्षक सुरेंद्र सिंह समेत भारी पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। पुलिस ने लापता बच्चे के स्वजन को बुलाकर शव की शिनाख्त कराई। मृतक के स्वजन ने कपड़ों से शव की शिनाख्त की और विलाप करने लगे। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया और छानबीन शुरू की।

अंधेरे में चला तीर निशाने पर लगा

पुलिस ने गांव निवासी कुछ संदिग्ध लोगों से शक के आधार पर पूछताछ की। लेकिन, कुछ हाथ नहीं लगा। पुलिस ने पूछताछ के लिए अक्सर मृतक के साथ खेलने वाले एक नाबालिग समेत दो आरोपितों को हिरासत में लिया और पूछताछ के लिए थाने ले गए। जहां सख्ती से पूछताछ करने पर दोनों ने बताया कि उन्होंने अंगोछा(तोलिया) से गला दबाकर मासूम की हत्या की थी। इसके बाद शव को खेत किनारे गढ्ढे डालकर मिट्टी व घास-फूस डालकर छिपा दिया था।

आरोपितों ने कबूल की कुकर्म करने की बात

एसपी ने बताया कि वारदात के पूर्व दोनों आरोपितों ने मासूम को शराब पिलाई थी। नशे की हालत में मासूम के साथ कुकर्म किया था। जिसके बाद उसकी हत्या कर दी थी। यह जानकारी आरोपितों से पूछताछ के दौरान मिली है। पहले भी आरोपितों ने मासूम के साथ कई बार कुकर्म किया था। हालांकि, कुकर्म की पुष्टि के लिए पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। कुकर्म की पुष्टि होने पर आरोपितों के खिलाफ दर्ज मुकदमें में संबंधित धाराओं की बढ़ोत्तरी की जाएगी।