नए कुलाधिपति नियुक्‍त, BSE के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष चौहान को मिली जिम्‍मेदारी


बीएसई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष चौहान को इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय का नया कुलपति नियुक्‍त किया गया है।

आशीष चौहान को बीएसई की स्थिति में सुधार लाने और बेहद सफल आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आइपीओ) और मजबूत कारोबारी विस्तार का श्रेय जाता है। वह 2009 में बीएसई के डिप्टी सीईओ बने थे। दो नवंबर 2012 को पांच साल के लिए उन्हें बीएसई का प्रबंध निदेशक सीईओ बनाया गया था।

प्रयागराज,  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) आशीष चौहान को इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) का नया कुलाधिपति नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति और इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय के विजिटर रामनाथ कोविंद ने बुधवार को पांच वर्ष के लिए कुलाधिपति की नियुक्ति की है। 

बीएसई की स्थिति में सुधार लाने में आशीष चौहान काे श्रेय

आशीष चौहान को बीएसई की स्थिति में सुधार लाने और बेहद सफल आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आइपीओ) और मजबूत कारोबारी विस्तार का श्रेय जाता है। वह 2009 में बीएसई के डिप्टी सीईओ बने थे। दो नवंबर 2012 को पांच साल के लिए उन्हें बीएसई का प्रबंध निदेशक एवं सीईओ बनाया गया था। इससे पहले एक्सचेंज के निदेशक मंडल ने दो नवंबर 2017 से एक नवंबर 2022 तक पांच साल के लिए चौहान के बीएसई के प्रबंध निदेशक व सीईओ पद पर पुन: नियुक्ति को मंजूरी दी थी। 

आइपीएल क्रिकेट टीम मुंबई इंडियंस के सीईओ भी रहे

आशीष चौहान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के संस्थापक सदस्यों की टीम में भी थे। वह 1992 से 2000 तक एनएसई में रहे थे। वर्ष 2000 से 2009 वह रिलायंस समूह के प्रेसिडेंट एवं मुख्य सूचना अधिकारी रह चुके हैं। वह शुरुआती वर्षों में आइपीएल क्रिकेट टीम मुंबई इंडियंस के सीईओ भी रहे। बीएसई में उन्हेंं एशिया के सबसे पुराने एक्सचेंज की स्थिति सुधारने और उसे दुनिया का सबसे तेज एक्सचेंज बनाने का श्रेय जाता है। 

इन डिग्रियों को किया है हासिल

आशीष चौहान के पास आइआइटी मुंबई से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बीटेक तथा आईआईएम कोलकाता से पीजीडीएम की डिग्री है।