गुजरात में अनलॉक की शुरुआत, निजी व सरकारी कार्यालय 100% क्षमता के साथ खुले


गुजरात में भी अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो गई है।

 कोरोना के मामलों में आ रही गिरावट को देखते हुए गुजरात में भी अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो गई है। राज्‍य के सभी निजी एवं सरकारी कार्यालय 100 प्रतिशत क्षमता के साथ खोलने का आदेश दिया गया है लेकिन जिम गार्डन मल्टीप्लेक्स सिनेमा हाल अभी भी बंद रहेंगे।

अहमदाबाद,  संवाददाता। गुजरात में कोरोना संक्रमण के चलते व्यापार धंधों पर लगी रोक सोमवार से पूरे दिन के लिए हटा ली गई। सरकारी तथा निजी कार्यालय भी अब पूरे स्टाफ के साथ खोल दिए गये हैं। सुबह 9:00 बजे से शाम को 6:00 बजे तक सभी तरह के व्यापार धंधे खुले रह सकेंगे। रात्रि कर्फ्यू यथावत लागू रहेगा। जिम, स्नानागार, गार्डन, मल्टीप्लेक्स, सिनेमा हाल बंद रहेंगे।

गांधीनगर में मुख्यमंत्री विजय रुपाणी की अध्यक्षता में गत दिनों हुई बैठक में गुजरात में कोरोना को काबू में करने के लिए व्यापार धंधा पर लगाई गई रोक को काफी हद तक हटा ली गई है। सोमवार से गुजरात में सभी तरह के व्यापार धंधे सुबह 9:00 बजे से शाम को 6:00 बजे तक खोले जा सकेंगे। रेस्टोरेंट्स होटल रात्रि नौ बजे तक खाद्य पदार्थ की टेक अवे सर्विस दे सकेंगे जबकि होम डिलीवरी रात्रि 10:00 बजे तक की जा सकेगी।

सरकार की ओर से लॉकडाउन में ढील की घोषणा के बाद रविवार को बड़ी संख्या में खेल मैदानों पर भीड़ देखी गई। क्रिकेट, फुटबॉल के खिलाड़ी कोरोना को भूलकर मास्क तथा गाइडलाइन का उल्लंघन करते हुए बड़ी संख्या में खेल मैदानों पर एकत्र हुए।

100 से अधिक दुकान वह रेस्‍तरां हुए थे सील

अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट आदि शहरों के बाजारों में भी भारी भीड़ जुटने लगी है। महानगर पालिका एवं पुलिस ऐसे व्यापार उद्योग व दुकानों पर निगरानी रख रही है ताकि कोरोना गाइडलाइन का पालन कराया जा सके। अहमदाबाद महानगरपालिका ने बीते सप्ताह अहमदाबाद में 100 से अधिक दुकान वह रेस्टोरेंट्स को सील कर दिया। 

टीकाकरण बहुत जरूरी

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि कोरोना पर अंकुश पाने के लिए 50 फ़ीसदी लोगों का टीकाकरण जरूरी है। उन्होंने कहां की मास्क, शारीरिक दूरी तथा सैनिटाइजर कोरोनावायरस बचाव के लिए पूरी तरह कारगर है लेकिन मानव जाति को कोरोना से मुक्त करने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। राज्य में टीकाकरण की समूची व्यवस्था की गई है सभी लोगों को टीका लगवाने के लिए पहल करनी होगी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में टीके को लेकर फैली भ्रांतियों को प्रशासन एवं जनप्रतिनिधि दूर करने का प्रयास करेंगे।

तीसरी लहर का सामना करने के लिए तैयार

रूपाणी ने कहा कि गुजरात सरकार कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने मेहसाणा में जिला अस्पताल का निरीक्षण किया तथा विधायक ग्रांट से यहां ऑक्सीजन प्लांट बनाने की घोषणा की। नितिन पटेल ने बताया कि गुजरात में 75 ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। राज्य में किसी भी मरीज को ऑक्सीजन की कमी के कारण नहीं मरने दिया जाएगा। केंद्र सरकार की ओर से राज्य को स्वास्थ्य संबंधी हर सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है अहमदाबाद तथा गांधीनगर में डीआरडीओ की मदद से 1200-1200 बेड के कोविड अस्‍पताल भी बनाए गए हैं।