केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, राज्यों के पास कोरोना रोधी वैक्सीन की 1.65 करोड़ से अधिक डोज

 


देश में चलाया जा रहा है राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि केंद्र सरकार ने अब तक राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को निशुल्क तथा सीधी खरीद श्रेणी के तहत 24.30 करोड़ से अधिक डोज उपलब्ध कराई गई हैं।

नई दिल्ली, प्रेट्र। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी कोरोना रोधी वैक्सीन की 1.65 करोड़ से अधिक डोज उपलब्ध हैं। मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि केंद्र सरकार ने अब तक राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क तथा सीधी खरीद श्रेणी के तहत 24.30 करोड़ से अधिक डोज उपलब्ध कराई गई हैं।

इनमें से शनिवार आठ बजे तक के उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 22.65 करोड़ डोज की खपत हुई है, जिनमें खराब हुए टीके भी शामिल हैं। इस तरह अभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पास 1.65 करोड़ (1,65,00,572) डोज उपलब्ध हैं।

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में केंद्र सरकार, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में टीके उपलब्ध करा कर उनकी मदद कर रही है। इसके अलावा, वह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा टीकों की सीधी खरीद की सुविधा भी देती है।

ज्यादातर राज्यों में 10-10 लाख से ज्यादा लोगों को दी गई पहली डोज

देश में चलाए जा रहे राषट्रव्यापी कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की बात करें तो स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बिहार, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और बंगाल में इस आयुवर्ग के 10-10 लाख से ज्यादा लोगों को पहली डोज दी गई हैं। इसी तरह 60 साल से अधिक उम्र के 6.01 करोड़ लोगों को पहली और 1.91 करोड़ लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी हैं। जबकि, 45 से 60 साल के 6.96 करोड़ को पहली और 1.11 करोड़ को दूसरी डोज दी जा चुकी हैं। लाभार्थियों में 99.44 लाख स्वास्थ्यकर्मी (पहली डोज), 68.40 लाख स्वास्थ्यकर्मी (दूसरी डोज) और 1.60 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स (पहली डोज) और 86.34 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स (दूसरी डोज) भी शामिल हैं।