मेघालय के मासूमों पर कोविड-19 का कहर, अब तक 17 बच्चों की गई जान: प्रदेश स्वास्थ्य मंत्री

 


मेघालय के मासूमों पर कोविड-19 का कहर, अब तक 17 बच्चों की गई जान

मेघालय में कोरोना संक्रमण बच्चों को अपना शिकार बना रहा है जिसके कारण राज्य मं सनसनी फैल गई है। 0 से 14 साल के आयुवर्ग में करीब 5 हजार बच्चे संक्रमित पाए गए हैं और इनमें से 17 की तो मौत भी हो चुकी है।

 शिलॉन्ग, प्रेट्र। मेघालय में कोविड-19 के चपेट में 0-14 साल के आयुवर्ग में 5 हजार से अधिक बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं जिनमें से 17 की मौत हो चुकी है। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री एएल हेक  ने शुक्रवार को दी। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी संक्रमित नवजात का जन्म कोरोना पॉजिटिव मां से नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि तैयारी के तहत सरकार ने शिलॉन्ग में बच्चों के लिए अस्पतालों की सुविधा की शुरुआत करने का फैसला लिया है। ये सुविधाएं पश्चिम गारो हिल्स में टूरा टाउन और पश्चिम जैनतिया हिल्स के जोवाई में दी जाएंगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'विशेषज्ञों द्वारा महामारी की तीसरी लहर इस साल के अंत तक तक आने की संभावना जाहिर की गई है जो बच्चों के लिए अधिक खतरनाक साबित हो सकती है और इसके लिए राज्य सरकार सभी आवश्यक तैयारियां भी कर रही है।' मेघालय में अब तक 5.44 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है जिसमें से 75,000 लोगों को दोनों खुराकें मिल चुकी हैं। राज्य में अब तक महामारी से 762 लोगों की मौत हुई है।