गांव-गांव वैक्सीनेशन कैंप लगने का दिखने लगा असर, 2.70 लाख से ऊपर पहुंचा पहली डोज लेने वालों का ग्राफ


679 ग्राम पंचायतों में एक भी कोरोना संक्रमित नहीं है।

45 से अधिक उम्र वालों से ज्यादा 18 से अधिक उम्र वाले युवा वैक्सीन लगवा रहे हैं। वैक्सीनेशन को लेकर अछनेरा को पछाड़कर बिचपुरी ब्लाक सबसे आगे है। 679 ग्राम पंचायतों में एक भी कोरोना संक्रमित नहीं है।

आगरा,  संवाददाता। आगरा में गांव-गांव वैक्सीन कैंप लगाने के सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं। 15 ब्लाकों में वैक्सीन लगवाने का ग्राफ 2.70 लाख से ऊपर पहुंच गया है। 45 से अधिक उम्र वालों से ज्यादा 18 से अधिक उम्र वाले युवा वैक्सीन लगवा रहे हैं। वैक्सीनेशन को लेकर अछनेरा को पछाड़कर बिचपुरी ब्लाक सबसे आगे है।

प्रयास का असर नजर आने लगा है। शहर के साथ अब ग्रामीण इलाकों में लोग वैक्सीनेशन के लिए जागरूक हो रहे हैं। बिचपुरी ब्लाक में अब तक 30 हजार से अधिक लोग वैक्सीन की पहली डोज ले चुके हैं। अछनेरा में 29 हजार से अधिक लोग पहली वैक्सीन लगवा चुके हैं। जैतपुर कलां और जगनरे ब्लाक में अभी भी उतनी रफ्तार से वैक्सीनेशन नहीं बढ़ पा रहा है। इधर, ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमितों के मामले कम हो रहे हैं। 679 ग्राम पंचायतों में एक भी कोरोना संक्रमित नहीं है। जिले की 690 ग्राम पंचायतों में से सिर्फ 11 ग्राम पंचायतों में 15 सक्रिय केस हैं। सीडीओ ए. मनिकंडन ने बताया कि प्रत्येक गांवों में वैक्सीनेशन कैंप लगने हैं। हर सप्ताह 100 से 200 गांवों के बीच कैंप आयोजित किए जाएंगे। जिससे कि हर व्यक्ति को वैक्सीन लग सके। इसके अलावा विभिन्न सैनिटाइजेशन और सफाई अभियान पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। 

वैक्सीनेशन एक नजर में

2,70,937 लोग अब तक लगवा चुके हैं पहली वैक्सीन

45 से अधिक उम्र वाले 1,48,919 लोगों ने ली पहली डोज

18 से अधिक उम्र वाले 1,22,018 युवाओं ने ली पहली डोज

45 से अधिक उम्र वाले 4,049 लोगों ने 24 जून को लगवाई पहली वैक्सीन

18 से अधिक उम्र वाले 10,341 युवाओं ने 24 जून को लगवाई पहली वैक्सीन