कोरोना की वैक्सीन लगवा चुके लोगों में अस्पताल में भर्ती होने की संभवाना 75 से 80 फीसद है कम: डॉ वीके पॉल

 


टीकाकरण वाले व्यक्तियों में आईसीयू में प्रवेश का जोखिम केवल 6 फीसद है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट दर्ज हुई है। 11 जून से 17 जून के बीच देश के 513 जिलों में कोरोना के कुल पॉजिटिव मामले पांच फीसद से कम थे ।

नई दिल्ली, एएनआइ। देश में कोरोना के मामलों की जानकारी देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि तीन मई से रिकवरी दर में वृद्धि देखी जा रही है, जो कि अब 96 फीसद हो गई है। कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट दर्ज हुई है। 11 जून से 17 जून के बीच देश के 513 जिलों में कोरोना के कुल पॉजिटिव मामले पांच फीसद से कम थे। इसके साथ ही नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य डॉ वीके पॉल ने बताया कि अध्ययनों से पता चलता है कि कोरोन की वैक्सीन लगाव चुके व्यक्तियों में अस्पताल में भर्ती होने की संभावना 75-80 फीसद कम होती है। ऐसे व्यक्तियों को ऑक्सीजन समर्थन की आवश्यकता होने की संभावना लगभग 8 फीसद है और टीकाकरण वाले व्यक्तियों में आईसीयू में प्रवेश का जोखिम केवल 6 फीसद है