छत्तीसगढ़ : दर्दनाक घटना, महिला ने पांच बेटियों के साथ ट्रेन के सामने कूदकर किया सुसाइड

 


पति से लड़ाई के बाद उठाया यह बड़ा कदम

महासमुंद की अपर अधीक्षक पुलिस मेघा तेंभुरकर साहू ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि प्रारंभिक जानकारी के अनुसार 45 वर्षीय महिला बेमचा गांव की रहने वाली थी और उसका अपने पति से झगड़ा हो गया था। इसके बाद उसने इतना बड़ा कदम उठाया।

रायपुर, पीटीआइ। छत्तीसगढ़ में आत्महत्या का एक दर्दनाक मामला सामने आया है। यहां एक महिला ने अपनी पांच बेटियों के साथ चलती ट्रेन के सामने कूदकर सुसाइड कर लिया। गुरुवार को पुलिस ने बताया कि महासमुंद जिले में एक महिला ने अपनी पांच बेटियों के साथ आत्महत्या कर ली है। महिला और उसकी बेटियां बीती रात से लापता थीं और गुरुवार सुबह रेलवे ट्रैक पर मिलीं।

महासमुंद की अपर अधीक्षक पुलिस मेघा तेंभुरकर साहू ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, 45 वर्षीय महिला बेमचा गांव की रहने वाली थी और उसका अपने पति से झगड़ा हो गया था। झगड़े के बाद महिला अपनी बेटियों के साथ रेलवे ट्रैक पर पहुंची और यह कदम उठाया।

उन्होंने कहा कि सुबह सूचना मिलने के बाद पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। मेघा तेंभुरकर साहू ने कहा, 'प्रथम दृष्ट्या लगता है कि महिला का अपने पति के साथ झगड़ा हुआ था जिसके बाद उसने अपनी बेटियों के साथ इतना बड़ा कदम उठाया।' उन्होंने कहा कि अभी तक कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है और मामले की जांच की जा रही है।