डेल्टा प्लस वेरिएंट के बाद आगरा कैंट स्टेशन पर हो रही यात्रियों की जांच


एक दिन में 400 यात्रियों के लिए जा रहे सैंपल और बढ़ाई जाएगी संख्या।

 एक दिन में 400 यात्रियों के लिए जा रहे सैंपल और बढ़ाई जाएगी संख्या। एक दिन में अभी स्टेशन पर 400 यात्रियों तक के एंटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की मानें तो आने वाले दिनों में टेस्ट की संख्या और बढ़ाई जाएगी।

आगरा,  संवाददाता। कोरोना की तीसरी लहर और डेल्टा प्लस वेरिएंट को लेकर जारी चेतावनी के बाद कैंट रेलवे स्टेशन पर बाहर से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग और जांच तेज कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम बाहर से आने वाले यात्रियों की जांच कर सैंपल ले रही है। संदिग्ध मरीजों को जानकारी प्रशासन की दी जा रही है।

कोरोना के नए वेरिएंट डेल्टा प्लस के सामने आने के बाद एक बार फिर से चिंता बढ़ गई है। ऐसे में प्रशासन ने टेस्टिंग और ट्रैकिंग तेज कर दी है। इसके लिए कैंट रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात रहती है। बाहर से आने वाले यात्री खासतौर पर महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्यप्रदेश से आने वाली ट्रेनों से आने वाले यात्रियों के एंटीजन और आरपीटीपीसीआर टेस्ट किए जा रहे हैं। इसके अलावा अन्य यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाती है। जो यात्री संदिग्ध प्रतीत होता है, उसकी जांच की जाती है। एक दिन में अभी स्टेशन पर 400 यात्रियों तक के एंटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की मानें तो आने वाले दिनों में टेस्ट की संख्या और बढ़ाई जाएगी। आगरा रेल मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव ने बताया कि कैंट स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग की टीम बाहर से आने वाले यात्रियों की जांच कर रही है। इसके अलावा रेलवे द्वारा भी यात्रियों को मास्क और शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए जागरूक किया जा रहा है।