दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने किया यमुनापार में ड्राइव थ्रू टीकाकरण की शुरुआत

 


दस जून के बाद से फिर से शुरू होंगे 18 से 44 वर्ष वालों के टीका केंद्र

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार को जो कोवैक्सीन की खेप मिली है वह पहले उन लोगों को लगाई जाएगी जिन्हें कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जानी है। पहली डोज वालों के लिए फिलहाल कोवैक्सीन नहीं है दूसरी डोज वाले सभी लोगों को वैक्सीन लग जाएगी।

नई दिल्ली, संवाददाता। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को अनलाक के दूसरे चरण के पहले दिन यमुनापार में ड्राइव थ्रू टीकाकरण की शुरुआत की। उपमुख्यमंत्री अक्षरधाम स्थित खेल गांव के स्पोर्ट्स कांप्लेक्स में पहुंचे। पटपड़गंज मैक्स अस्पताल ने स्पोर्ट्स कांप्लेक्स और पटपड़गंज स्थित नेशनल विक्टर पब्लिक स्कूल में ड्राइव थ्रू टीकाकरण केंद्र बनाएं हैं। 1100 रुपये का शुल्क लेकर यहां लोगाें को वाहनों में बैठाकर टीका लगाया जा रहा है।

ड्राइव थ्रू में टीका लगवाने के लिए पहुंचे लोगों से उपमुख्यमंत्री ने बातचीत की और उनके अनुभवों को जाना। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार की पूरी कोशिश है कि जल्द से जल्द दिल्ली के सभी लोगों को टीका लगाने की। उन्होंने अपील की लोग जल्द से जल्द टीका लगवाएं और कोरोना से लड़ने में सरकार का साथ दें।

दस जून के बाद से फिर से शुरू होंगे 18 से 44 वर्ष वालों के टीका केंद्र

जागरण संवाददाता ने उपमुख्यमंत्री से सवाल किया कि 18 से 44 वर्ष के उम्र वालों के लिए बने टीकाकरण केंद्र एक सप्ताह से ज्यादा से बंद हैं, इन केंद्रों को कब तक वैक्सीन मिलेगी। इसके जवाब में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दस जून के बाद से केंद्रों पर टीका लगना शुरू हो जाएगा। वैक्सीन की कमी है, इसके बाद भी निजी अस्पतालों को वैक्सीन मिल रही है और वह अलग-अलग शुल्क लेकर वैक्सीन लगा रहे हैं। इसपर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए, बताना चाहिए केंद्र सरकार कितनी वैक्सीन किसे दे रही है।

दूसरी डोज वालों को ही मिलेगी कोवैक्सीन

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार को जो कोवैक्सीन की खेप मिली है, वह पहले उन लोगों को लगाई जाएगी जिन्हें कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जानी है। पहली डोज वालों के लिए फिलहाल कोवैक्सीन नहीं है, दूसरी डोज वाले सभी लोगों को वैक्सीन लग जाएगी। तब जाकर पहली डोज वालों को वैक्सीन दी जाएगी।