दिल्ली में गेस्ट टीचर्स के लिए खुशखबरी, नियमित शिक्षिकों की नियुक्ति के बाद भी मिलेगा रोजगार

 


वरिष्ठ अतिथि शिक्षकों को अब नहीं सताएगी रोेजगार की चिंता

अगर किसी स्कूल में नियमित शिक्षक की पदोन्नति पोस्ट फिक्सेशन या नई नियुक्ति होने से किसी अतिथि शिक्षक की सेवा समाप्त होती है तो उन्हें वरिष्ठता के आधार पर राजधानी के सरकारी स्कूलों में खाली पदों पर समायोजित किया जाएगा।

नई दिल्ली । दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले अतिथि शिक्षकों को अक्सर नियमित शिक्षकों की पदोन्नति, पोस्ट फिक्सेशन और नई नियुक्ति होने से रोजगार की चिंता रहती है। लेकिन इन स्कूलों में अब लिफो (लास्ट इन फर्स्ट आउट) नियम लागू होने से वरिष्ठ अतिथि शिक्षकों को रोजगार की पूरी संभावनाएं मिलेंगी। यानी अब अगर किसी स्कूल में नियमित शिक्षक की पदोन्नति, पोस्ट फिक्सेशन या नई नियुक्ति होने से किसी अतिथि शिक्षक की सेवा समाप्त होती है तो उन्हें वरिष्ठता के आधार पर राजधानी के सरकारी स्कूलों में खाली पदों पर समायोजित किया जाएगा। अगर किसी स्कूल में शिक्षक का पद खाली नहीं है तो उन्हें कनिष्ठ अतिथि शिक्षकों की जगह पर नियुक्ति दी जाएगी।

निदेशालय के मुताबिक जिस अतिथि शिक्षक के कुल कार्य दिवस सबसे ज्यादा होंगे उसे वरिष्ठ माना जाएगा। इसके लिए शिक्षा निदेशालय दिल्ली में पढ़ाने वाले सभी अतिथि शिक्षकों की विषय और पद अनुसार उनके कुल काम के दिनों के आधार पर राज्य स्तरीय सूची तैयार करेगा। वहीं, अगर किसी दो अतिथि शिक्षकों के कुल काम के दिन समान होते हैं तो शिक्षक की जन्मतिथि के आधार पर उसे वरिष्ठ माना जाएगा। निदेशालय के मुताबिक दो सप्ताह के अंदर सभी वरिष्ठ अतिथि शिक्षकों की सूची निदेशालय की वेबसाइट पर भी अपलोड की जाएगी।

आल इंडिया गेस्ट टीचर एसोसिएशन के पदाधिकारी शोएब राणा ने निदेशालय के इस फैसले पर कहा कि कई ऐसे वरिष्ठ अतिथि शिक्षक है जिनकी सेवाएं नियमित शिक्षक की पदोन्नति या नई नियुक्ति होने से समाप्त हो गई थी उन्हें अब रोजगार मिलेगा। उन्होंने बताया कि अभी तक स्कूल स्तर पर ही इस तरह का नियम था लेकिन राज्य स्तर पर ये लागू होने से उन्हें दिल्ली में कहीं पर भी समायोजित किया जा सकेगा।

बता दें कि सरकार के इस फैसले से उन वरिष्ठ अतिथि शिक्षकों को रोजगार की पूरी संभावनाएं मिलेगी जिनकी जगह पर अगर कोई नई नियुक्ति हो गई हो। इस नियम के लागू होेने से सैकड़ों गेस्ट शिक्षकों को राहत मिलेगी।