मध्य प्रदेश सरकार ने ब्लैक फंगस की दवा के उत्पादन करने के लिए जारी किया लाइसेंस


मध्य प्रदेश सरकार ने ब्लैक फंगस की दवा के उत्पादन करने के लिए जारी किया लाइसेंस

प्रदेश सरकार ने जबलपुर की एक कंपनी के लिए एम्फोटेरिसिन-बी( Amphotericin-B) के उत्पादन के लिए यह लाइसेंस जारी किया है। जारी की गई है प्रेस रिलीज के मुताबिक मध्य प्रदेश के खाद्य एवं औषधि नियंत्रक ने 31 मई को यह आदेश दिया था।

भोपाल, एएनआइ। मध्य प्रदेश सरकार ने ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाई के उत्पादन के लिए राज्य में लाइसेंस जारी कर दिया है। प्रदेश सरकार ने जबलपुर की एक कंपनी के लिए एम्फोटेरिसिन-बी के उत्पादन के लिए यह लाइसेंस जारी किया है। जारी की गई है प्रेस रिलीज के मुताबिक,

मध्य प्रदेश के खाद्य एवं औषधि नियंत्रक ने 31 मई को एक निजी क्षेत्र की कंपनी Revacure Lifesciences के लिए लाइसेंस जारी किया है, जो कि उमरिया-डुंगरिया औद्योगिक क्षेत्र में स्थित है। यह आदेश 22 दिसंबर 2021 तक लागू रहेगा।

प्रेस रिलीज में कहा गया है कि एम्फोटेरिसिन-बी का उत्पादन जबलपुर में किया जाएगा। जिससे महाकौशल, विंध्य व बुंदेलखंड को फायदा होगा। इसके साथ ही राज्य के क्षेत्रों में यह दवा आसानी से उपलब्ध हो जाएगी। ब्लैक फंगस से पीड़ित जरूरतमंद मरीजों को कम लागत में यह दवा मुहैया कराई जाएगी। प्रदेश सरकार ने कहा कि यह दूसरी कंपनी है जिसे, ब्लैक फंगस की दवा का उत्पादन करने का लाइसेंस दिया गया है। इससे पहले इंदौर की एक कंपनी को लाइसेंस दिया गया था।