वसुंधरा और उनके सांसद बेटे के लापता होने के पोस्टर लगे- समर्थकों ने हटाए


झालावाड़ में वसुंधरा राजे और उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर लगे

भाजपा मुख्यालय के बाहर लगे होर्डिंग से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का फोटो हटाए जाने के बाद झालावाड़ जिले में वसुंधरा राजे और उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर लगे नजर आ रहे हैं। पोस्टर झालावाड़ के पीड़ित लोगों की ओर से लगाए गए हैं।

जयपुर,  संवाददाता। जयपुर स्थित भाजपा के प्रदेश मुख्यालय के बाहर लगे होर्डिंग से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का फोटो हटाए जाने के एक दिन बाद वीरवार को झालावाड़ में पोस्टर लगे। झालावाड़ जिले के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में वसुंधरा राजे और उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर लगे नजर आए।

 इन पोस्टरों में लिखे संदेश में दावा किया गया कि झालारापाटन से विधायक वसुंधरा राजे और झालावाड़-बारां संसदीय क्षेत्र से उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह कोरोना महामारी के बीच गायब हैं। दोनों को खोजने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा। संदेश के अनुसार पोस्टर झालावाड़ के पीड़ित लोगों की ओर से लगाए गए हैं। पोस्टर पर दोनों के फोटो भी छपे हुए हैं। संदेश में लिखा है, आपको वापस आने से डरना चाहिए। हम दो से चार दिनों मेंसबकुछ भूल जाएंगे और आप फिर अपनी भ्रष्ट व्यवस्था जारी रख सकते हैं।

ये पोस्टर बुधवार रात में लगाए गए। वीरवार सुबह जब भाजपा कार्यकर्ताओं ने इन्हें देखा तो हटाया। स्थानीय प्रशासन ने भी अपने स्तर पर ये पोस्टर हटवाए। भाजपा के जिला अध्यक्ष संजय जैन ने पोस्टर प्रकरण पर नाराजगी जताते हुए कहा कि यह भ्रम पैदा करने की साजिश है। वसुंधरा राजे ने 32 साल में झालावाड़ को बहुत कुछ दिया है। पहले यह कयास लगाए जा रहे थे कि पार्टी की आंतरिक राजनीति के चलते कुछ भाजपाईयों ने ही पोस्टर लगाए होंगे, लेकिन जैन ने इससे इंकार किया। उल्लेखनीय है कि वसुंधरा राजे दो माह से झालावाड़ नहीं गई है। वे तीन विधानसभा सीटों के उप चुनाव में भी पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार करने नहीं गई। पिछले डेढ़ माह से उनकी बहू निहारिका बीमार हैं । वर्तमान में वह अस्पताल में भर्ती बताई जाती हैं।