सवारियों को लूटने वाले गिरोह का भंडाफोड़, महिला को बनाते थे सुरक्षा के लिए ढाल

 


आरोपितों की पहचान गाजियाबाद के लोनी निवासी राजा कुमार और संजू उर्फ सुधीर के रूप में हुई है।

एसीपी अक्षत कौशल की टीम ने सौ से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल कर बदमाशों की पहचान की और लोनी से उन्हें दबोच लिया।मंडावली पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो महिला को ढाल बनाकर आटो में सवारियां बैठाकर लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे।

नई दिल्ली,  संवाददाता। पटपड़गंज औद्योगिक थाना क्षेत्र पुलिस ने आटो में सवारियों को बैठाकर लूटपाट करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है। आरोपितों की पहचान गाजियाबाद के लोनी निवासी राजा कुमार और संजू उर्फ सुधीर के रूप में हुई है। पुलिस ने इनकी एक महिला साथी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस उपायुक्त प्रियंका कश्यप ने बताया कि चार जून को संजय कुमार वर्मा ने लूट की शिकायत पुलिस को दी थी। पीड़ित ने बताया था कि वह उत्तर प्रदेश के उन्नाव स्थित अपने गांव से दिल्ली आए थे, तड़के तीन बजे वैशाली बस स्टैंड पर उतरे और ख्याला के लिए आटो तलाशने लगे। उनके पास एक आटो आकर रूका, जिसमें एक युवक और महिला बैठे हुए थे। पीड़ित भी उसी आटो में बैठ गए, सराय काले खां के पास पहुंचते ही बदमाशों ने युवक को पीटना शुरू कर दिया। महिला ने युवक की जेब से नकदी और पर्स निकाल लिया और युवक को फेंककर फरार हो गए।

एसीपी अक्षत कौशल के नेतृत्व में बनी टीम ने सौ से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल कर बदमाशों की पहचान की और लोनी से उन्हें दबोच लिया। वहीं, मंडावली थाना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो महिला को ढाल बनाकर आटो में सवारियां बैठाकर लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे। आरोपितों की पहचान कबीर नगर निवासी वसीम व लोनी सलीम और सीमापुरी निवासी गीता के रूप में हुई है।

जिला पुलिस उपायुक्त प्रियंका कश्यप ने बताया कि एक जून को सरस्वती देवी बेटे और भतीजे के साथ उत्तर प्रदेश से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंचीं। यहां से उन्होंने कल्याणपुरी जाने के लिए एक आटो लिया, रास्ते में आटो खराब हो गया। आटो चालक ने उन्हें पास में खड़े दूसरे आटो में बैठा दिया, उसमें पहले से चालक के अलावा एक महिला बैठी हुई थी। वे लोग भी उसमें बैठ गए।

रास्ते में चालक ने आटो रोककर एक युवक को और बैठा लिया। जब आटो अक्षरधाम के पास पहुंचा, तीनों ने मिलकर पीड़िता से गहने, नकदी व अन्य सामान लूट लिया। महिला और उनके साथ वालों को आटो से उतारकर फरार हो गए। केस दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस ने 50 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली और काल रिकार्ड के जरिये बदमाशों को सीमापुरी इलाके से गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि वह अपनी साथी महिला को आटो में बैठाकर वारदात करते थे। पुलिस इनके साथी राहुल, कासिम, जावेद और कल्लू उर्फ बुड्ढा की तलाश में छापेमारी कर रही है।