आखिर किस वजह से प्रभावित हुआ है फिलीपींस का वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम, कई सेंटर हुए बंद

 


फिलीपींस में बंद हुए कई वैक्‍सीन सेंटर

फिलीपींस में वैक्‍सीन की कमी के बाद कई वैक्‍सीन सेंटर को बंद करना पड़ा है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि सप्‍लाई में हो रही देरी की वजह से इसमें बाधा हो रही है और सरकार टीकाकरण प्रभावित हो रहा है।

मनीला (रॉयटर्स)। फिलीपींस का वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम वैक्‍सीन की कमी की वजह से काफी हद तक प्रभावित हुआ है। सरकार के सामने वैक्‍सीन की कमी के अलावा इसकी सप्‍लाई में हो रही देरी भी एक बड़ी बाधा बन रही है। इसकी वजह से कई शहरों में वैक्‍सीनेशन सेंटर को बंद तक करना पड़ गया है। राष्‍ट्रपति के प्रवक्‍ता हैरी रॉक ने देश की जनता से सरकार की मजूरी को समझने की अपील की है।

उन्‍होंने कहा है कि आने वाले माह में फिलीपींस को वैक्‍सीन की अधिक सप्‍लाई होगी जिसके बाद सभी को वैक्‍सीन दी जा सकेगी। सरकार के वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम के प्रमुख कार्लिटो गाल्‍वेज ने रेडियो पर बुधवार को कहा कि मई में फिलीपींस को करीब 70 लाख वैक्‍सीन की खुराक मिलनी थी लेकिन उसको केवल 45 लाख वैक्‍सीन की डोज ही हासिल हो सकी हैं।

फिलीपींस में वैक्‍सीन की ये कमी ऐसे समय में देखने को मिली है जब सरकार ने काम के लिए घर से बाहर निकलने वाले साढ़े तीन करोड़ लोगों को वैक्‍सीन लगाने के लिए काम शुरू किया था। बता दें कि सरकार ने देश की आर्थिक हालत को सुधारने के मकसद से कोरोना पाबंदियों को काफी हद हटा लिया है। क्‍वजोन सिटी के मेयर जॉय बेल्‍मोंटे ने कहा कि उनको अपने शहर में बने वैक्‍सीनेशन सेंटर को जबरन बंद करना पड़ा है। इसकी वजह वैक्‍सीन की कमी और इसकी सप्‍लाई न होना है।

उनका कहना था कि वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम को युद्धस्‍तर पर चलाने के लिए 15 जगह पर वैक्‍सीन लगाने की सुविधा शुरू की गई थी, लेकिन वैक्‍सीन की कमी की वजह से कई साइट बंद हो गई हैं और अब केवल 8 पर ही वैक्‍सीन लगाई जा रही है। गौरतलब है कि ये शहर फिलीपींस का सबसे ज्‍यादा आबादी वाला शहर है।

इसी तरह से मरिकिना शहर के 18 हजार लोगों को भी कोरोना वैक्‍सीन का बेसर्बी से इंतजार है। यहां के मेयर मर्सिलीनो टीयोडोरो ने बताया है कि वैक्‍सीन की सप्‍लाई में कमी टीकाकरण को सुचारू रूप से चलाने में सबसे बड़ी बाधा बना हुआ है। उनके मुताबिक 20 लाख से अधिक फाइजर-बायोएनटेक की वैक्‍सीन गुरुवार को फिलीपींस आ जाएंगी।

ये वैक्‍सीन विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की कोवैक्‍स योजना के तहत मिल रही हैं। लेकिन ये वैक्‍सीन केवल सीनियर सिटीजन और ऐसे मरीजों को दी जाएंगी जिनकी हालत सही नहीं है। आपको बता दें कि फिलीपींस को सवा करोड़ से अधिक वैक्‍सीन की खुराक मिलेंगी। इनमें से सबसे अधिक चीन से और ग्‍लोबल वैक्‍सीन शेयरिंग स्‍कीम के तहत दी जाएंगी। सरकार की योजना इस वर्ष तक 7 करोड़ लोगों को वैक्‍सीन देने की है।

आपको यहां पर ये भी बता दें कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के आंकड़ों के मुताबिक 8 जून तक पूरी दुनिया में 2,092,863,229 वैक्‍सीन की खुराक दी जा चुकी थीं। वहीं यदि फिलीपींस की बात करें तो डब्‍ल्‍यूएचओ के आंकड़े बताते हैं कि यहां पर 8 जून तक कोरोना संक्रमण के कुल 1,280,773 मामले सामने आ चुके थे वहीं 22,064 मरीजों की मौत हो चुकी थी। यहां पर अब तक 5,678,991 वैक्‍सीन की खुराक दी जा चुकी हैं।