क्या मैं अफगानिस्तान के राष्ट्रपति से मिला? ममता बनर्जी से मीटिंग के सवाल पर भड़के राकेश टिकैत

 


Kisan Andolan: क्या मैं अफगानिस्तान के राष्ट्रपति से मिला? ममता बनर्जी मीटिंग के सवाल पर भड़के राकेश टिकैत

 एम ममता बनर्जी से मुलाकात को लेकर उठने वाले सवालों पर राकेश टिकैत ने कहा कि क्या सीएम से मिलने के लिए वीजा की जरूरत होती है? हम नीतियों को लेकर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे।

नई दिल्ली/गाजियाबाद, एएनआइ। तीनों केंद्रीय कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसानों का प्रदर्शन 6 महीने बाद भी जारी है। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय राकेश टिकैत ने बुधवार को कोलकाता में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात की। इस मुलाकात को लेकर सवाल उठने लाजिमी थे और इस पर किसान नेता राकेश टिकैत भड़क गए। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात के सवाल पर राकेश टिकैत ने नाराज जताते हुए कहा कि मैं सीएम से मिला न कि पार्टी प्रमुख से। उन्होंने नाराजगी भरे अंदाज में कहा कि क्या मैंने अफानिस्तान के राष्ट्रपति से मुलाकात की, जिसके लिए  मुझे भारत सरकार की अनुमति लेनी पड़े?

क्या सीएम से मिलने के लिए वीजा की जरूरत है?

सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात को लेकर उठने वाले सवालों पर राकेश टिकैत ने कहा कि क्या सीएम से मिलने के लिए वीजा की जरूरत होती है? हम नीतियों को लेकर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे।  उत्तराखंड में भाजपा की सरकार है और पंजाब में कांग्रेस की सरकार है, हम उनसे भी मिलेंगे।

गौरतलब है कि बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने भारतीय किसान यूनियन की ओर से सभी राज्य सरकारों से उनके आंदोलन को समर्थन करने की मांग की।

मुलाकात के बाद राकेश टिकैत ने कहा कि मैं बंगाल के लोगों को इतनी बड़ी जीत के लिए बधाई देता हूं। मैं यहां की सीएम ममता बनर्जी का शुक्रिया अदा करता हूं। हमें विपक्ष को मजबूत करने की जरूरत है। इसी के साथ  कहा कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के लिए हम बेहतर समन्वय की जरूरत है। राकेश टिकैत ने कहा कि ममता बनर्जी ने हमें समर्थन का आश्वसन दिया है। उन्होंने कहा कि हम ममता दीदी से आग्रह करने आए हैं कि आपने बड़े दुश्मन को हराय अब आप ऐसा मॉडल तैयार करें जिसे सब फॉलो करें।