ममता बनर्जी से मिले राकेश टिकैत, मुख्यमंत्री बोलीं- किसान आंदोलन को मेरा समर्थन

 


मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलेंगे किसान नेता राकेश टिकैत

 भारतीय किसान संघ (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैट ने बुधवार को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की।कोलकाता स्थित राज्य सचिवालय में मुलाकात के दौरान टिकैत ने किसानों के मुद्दे पर ममता से बात की।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैट ने बुधवार को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की।कोलकाता स्थित राज्य सचिवालय में मुलाकात के दौरान टिकैत ने किसानों के मुद्दे पर ममता से बात की। सूत्रों के मुताबिक किसान नेताओं और ममता के बीच केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन को तेज करने और सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा हुई। बैठक के बाद ममता ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले सात महीनों से उन्होंने (सरकार) किसानों से बात करने की जहमत तक नहीं उठाई। मेरी मांग है कि तीनों कृषि कानून तुरंत वापस लिए जाएं। उन्होंने साथ ही कहा कि किसान आंदोलन को मेरा समर्थन जारी रहेगा। वह दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों से भी किसानों के मुद्दे पर बात करेंगी।

ममता ने कहा कि जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिया जाता तब तक आंदोलन जारी रखा जाना चाहिए।उन्होंने विपक्षी दलों से भी इस मुद्दे पर एकजुट होकर केंद्र के खिलाफ लड़ाई का आह्वान किया। दूसरी तरफ टिकैत ने इस समर्थन के लिए ममता का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि दीदी ने बड़े दुश्मन को हराकर बंगाल को बचा लिया है।अब सभी को एकजुट होकर भाजपा से देश को बचाना होगा। ममता की तारीफ करते हुए टिकैत ने यहां तक कहा कि उनमें प्रधानमंत्री बनने की क्षमता हैं।

उन्होंने कहा- 'दीदी से आग्रह है कि वे ऐसा मॉडल तैयार करें जिसे सब फॉलो करें, आपने बड़े दुश्मन को हराया है।' दरअसल बंगाल चुनाव में तृणमूल की प्रचंड जीत को लेकर उनका निशाना पीएम मोदी पर था।बता दें कि हाल में संपन्न बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान भी टिकैत ने ममता के समर्थन में नंदीग्राम में सभा की थी और लोगों से भाजपा को वोट नहीं देने की अपील की थी। टिकैत और अन्य किसान नेता पिछले एक साल से संसद द्वारा पारित कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हैं।