कोविड के बाद झड़ रहे बाल, त्‍वचा भी पड़ रहे निशान, रखना होगा ध्‍यान

 


कोरोना से ठीक हो जाने के बाद महिलाओं में बाल झड़ने की समस्‍या देखने को मिल रही है।

पोस्ट कोविड समस्याओं में जुड़ी नई परेशानियां। अब बाल झड़ने त्वचा पर रैशेज और नाखून संबंधी परेशानियों के साथ चिकित्सकों के पास पहुंच रहे कोविड से ठीक हुए लोग। गर्मी में काढ़े का अत्‍यधिक सेवन भी खड़ी कर सकता है नई परेशानी।

आगरा, संवाददाता। कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद पोस्ट कोविड समस्याओं में अब बाल, त्वचा और नाखून संबंधी परेशानियां भी शामिल हो गई हैं। चिकित्सकों के पास इन समस्याओं के मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है।

अब तक संक्रमण के बाद रिकवर हो रहे लोगों को पोस्ट कोविड समस्याएं जैसे कमजोरी, सर दर्द, बैचेनी, सांस लेने में तकलीफ, खड़े होने पर चक्कर आना, सीने में दर्द, जोड़ों व मांसपेशियों में दर्द, चिंता व अवसाद, बुखार आदि परेशान कर रही हैं। अब इनमें कुछ समस्याएं और जुड़ गई हैं। कई मरीजों को त्वचा पर रैशेज, बाल झड़ना और नाखून पर लकीरें और जल्दी टूटने जैसी समस्याएं आ रही हैं।

इस बारे में होम्योपैथिक चिकित्सक डा. पार्थ सारथी शर्मा ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए और संक्रमण के दौरान लोगों ने काढ़े का अत्याधिक सेवन किया, इससे शरीर में गर्मी हो गई। इस वजह से कई लोगों में हर्पीज की समस्या भी देखने को मिल रही है। इसके साथ ही बाल झड़ने की समस्या के साथ भी कई लोग आ रहे हैं।

त्वचा रोग विशेषज्ञ डा. किंशुक सक्सेना ने बताया कि संक्रमण से ठीक होने के बाद लोगों की त्वचा में रैशेज की समस्या भी हो रही है। नाखून कमजोर होकर जल्दी टूट जाते हैं। नाखून संबंधी बीमारी वाले रोगियों में मेलानोनीचिया या रेखाएं भी देखने को मिल रही हैं।