ट्रैक्टर यात्रा संग भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत पहुंचे यूपी बॉर्डर, शनिवार को महापंचायत कर दिखाएंगे दम

 

भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत की ट्रैक्टर यात्रा के दौरान वेस्ट यूपी में जगह-जगह जाम

भाकियू का दावा है कि शनिवार तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हजारों किसान गाजीपुर बॉर्डर पहुंचंगे। इससे पहले इस रैली में शामिल होने के लिए बड़ी तादाद में ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार होकर प्रदर्शनकारी मोदीनगर से गुजरे।

नई दिल्ली/गाजियाबाद,  संवाददाता। 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाई गई आपातकाल की बरसी पर 26 जून को गाजीपुर बॉर्डर पर होने वाली महापंचायत के लिए भारतीय किसान यूनियन से तैयारी तेज कर दी है। इस कड़ी में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत भी पहुंच चुके हैं। भाकियू का दावा है कि शनिवार तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हजारों किसान गाजीपुर बॉर्डर पहुंचंगे। इससे पहले इस रैली में शामिल होने के लिए बड़ी तादाद में ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार होकर प्रदर्शनकारी मोदीनगर से गुजरे। भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत की अगुवाई में निकाली गई ट्रैक्टर यात्रा में काफी भीड़ है। इस दौरान जगह जगह यात्रा का स्वागत किया जा रहा है। इस दौरान दिल्ली से ग़ाज़ियाबाद की ओर हाईवे पर भीष जाम लगा है। प्रदर्शनकारी किसी को भी निकलने नहीं दे रहे। पुलिस प्रशासन की ओर से सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।

हजारों किसान पहुंचेंगे गाजीपुर बॉर्डर

वहीं, वहीं भाकियू के अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि हजारों किसान अपने ट्रैक्टरों के साथ शामिल हो रहे हैं। सभी ट्रैक्टर पूर्णतया अनुशासन में चलते हुए गंतव्य की ओर बढ़ रहे हैं। जिससे किसी भी मुसाफिर को परेशानी का सामना न करना पड़े। रास्ते में अलग-अलग पड़ाव पर उस क्षेत्र के किसान भी अपने ट्रैक्टर के साथ जुड़ते चले जाएंगे। बता दें 26 जून को किसान गाजीपुर बॉर्डर पर तीनों कृषि कानून के खिलाफ एक बार फिर हुंकार भरेंगे।

बता दें कि तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को पूरी तरह से वापस लेने की मांग को लेकर दिल्ली-एनसीआर के चारों बॉर्डर (टीकरी, सिंघु, शाहजहांपुर और गाजीपुर ) पर किसानों का धरना जारी है। 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाई इमरजेंसी को लेकर 26 जून को किसान प्रदर्शनकारी सभी राज्यों के राजभवन पर प्रदर्शन करेंगे। राकेश टिकैत की मानें तो यूपी बॉर्डर पर 4 लाख ट्रैक्टर 25 लाख लोगों के साथ पहुंचेंगे।