दिल्ली में जामा मस्जिद की मरम्मत के लिए शाही इमाम बुखारी ने पीएम मोदी से मांगी मदद


दिल्ली की ऐतिहासिक जामा मस्जिद की फाइल फोटो

जामा मस्जिद की मरम्मत के लिए शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सहायता मांगी है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह करते हुए कहा है कि वह भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को जामा मस्जिद की मरम्मत के लिए निर्देशित करें।

नई दिल्ली,  संवाददाता। जामा मस्जिद की मरम्मत के लिए शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सहायता मांगी है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह करते हुए कहा है कि वह भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को जामा मस्जिद की मरम्मत के लिए निर्देशित करें। बता दें कि शुक्रवार की रात में आई तेज आंधी पानी से जामा मस्जिद की मीनार को नुकसान पहुंचा है। उसके एक मीनार में लगे कुछ पत्थर गिर गए हैं। ऐसे में जामा मस्जिद को मरम्मत की आवश्यकता है।

वैसे लाकडाउन के पहले भी बुखारी की ओर से प्रधानमंत्री से मांगी गई सहायता पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने जामा मस्जिद की मरम्मत का काम शुरू किया था, लेकिन लाकडाउन के कारण काम रुक गया है। इस बीच मीनार की पत्थर गिरने की घटना हुई है।

आंधी की वजह से जामा मस्जिद की मीनार को नुकसान

मिली जानकारी के अनुसार, ऐतिहासिक जामा मस्जिद की मीनार को तेज आंधी की वजह से नुकसान पहुंचा है। शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी चाहते हैं कि इसकी मरम्मत जल्द से जल्द कराई जाए। इसीलिए उन्होंने पीएम मोदी से मदद मांगी है ताकि इसकी मरम्मत का काम जल्द शुरू कराया जा सके। दरअसल, ऐतिहासिक इमारतों की देखरेख और मरम्मत का काम भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग करता है। इसलिए बुखारी ने पीएम मोदी से कहा है कि संबंधित विभाग को मरम्मत के लिए निर्देशित करें।

आंधी से तीन सौ से अधिक पेड़ गिर गए

बता दें कि पिछले दिनों दिल्ली में तेज आंधी के साथ बारिश हुई थी। इसकी वजह से कई जगहों पर पेड़ गिर गए। राजधानी में करीब तीन सौ पेड़ों को आंधी से नुकसान पहुंचा है। बीते आंधी में राजधानी के सौ से अधिक पेड़ गिर गए। हालांकि कोई बड़ी दुर्घटना नही हुई। पेड़ों की चपेट में आने की वजह से कई जगहों पर बिजली के खंभे गिए गए थे इसकी वजह से बिजली आपूर्ति बाधित रही। कई जगहों पर पेड़ दिवारों पर गिर गए जिससे नुकसान भी हुआ।