शोपियां में पुलिस-सीआरपीएफ के संयुक्त नाके पर आतंकियों का हमला, सर्च ऑपरेशन जारी

 


सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है।

 पुलिस सूत्रों का कहना है कि आतंकियों ने यह हमला घात लगाकर किया। यह तो गनीमत है कि इस फायरिंग में जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। अलबत्ता आतंकी हमले के बाद ही सुरक्षाबलों ने भी अपनी पोजिशन संभालते हुए आतंकियों पर गोलीबारी शुरू कर दी।

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। दक्षिण कश्मीर के लितर शोपियां में आतंकियों ने सुरक्षाबलों की एक नाका पार्टी पर हमला किया। नाका पार्टी ने खुद को बचाते हुए जवाबी फायर किया। करीब पांच मिनट तक दोनों तरफ से एक-दूसरे पर ताबड़तोड़ फायरिंग हुई। इसके बाद आतंकी वहां से भाग निकले। इस हमले में किसी तरह के नुकसान की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि आतंकियों ने यह हमला घात लगाकर किया। यह तो गनिमत है कि इस फायरिंग में जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। अलबत्ता आतंकी हमले के बाद ही सुरक्षाबलों ने भी अपनी पोजिशन संभालते हुए आतंकियों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इस बीच अतिरिक्त सुरक्षाबलों को भी बुला लिया गया। जैसे ही आतंकवादियों ने एसओजी, सेना और सीआरपीएफ की अतिरिक्त टुकड़ियों को घटनास्थल पर पहुंचते देखा, वे वहां से फरार हो गए। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है।

नाका पार्टी पर हमला करने वाले आतंकी हाइवे के साथ लगते लितर अगलार इलाके में छिपे हुए हैं। सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी के साथ इलाके में आने व जाने वाले रास्तों पर विशेष नाके स्थापित किए हैं। आने-जाने वाले वाहनों की तलाशी ली जा रही है और लोगों से पूछताछ भी की जा रही है। सुरक्षाबलों का कहना है कि आतंकियों के इलाके में ही मौजूद होने की आशंका है। यदि आसपास के इलाके में आतंकी नहीं मिलते हैं तो वे घर-घर जाकर लोगों की जांच करेंगे।

वहीं कश्मीर में सक्रिय किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। हमले में तीन से चार आतंकियों के शामिल होने की आशंका जताई है।सुरक्षाबलों ने लोगों से भी अपील की है कि वे संदिग्ध दिखने पर उन्हें तुरंत सूचित करें।