दिल्ली में औषधीय पौधों के मेगा वृक्षारोपण अभियान की शुरुआत, सरकार की नर्सरी से मुफ्त में मिलेंगे पौधे


दिल्ली सरकार की 14 नर्सरी से कोई भी व्यक्ति जाकर मुफ्त में औषधीय पौधे प्राप्त कर सकता है

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर दिल्ली में औषधीय पौधों के मेगा वृक्षारोपण अभियान की शुरुआत हुई। इस मौके पर पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार की 14 नर्सरी हैं और सोमवार से कोई भी व्यक्ति नर्सरी में जाकर मुफ्त में औषधीय पौधे ले सकता है।

नई दिल्ली। विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर शनिवार को दिल्ली में औषधीय पौधों के मेगा वृक्षारोपण अभियान की शुरुआत हुई। इस मौके पर पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार की दिल्ली भर में 14 नर्सरी हैं और सोमवार से कोई भी व्यक्ति नर्सरी में जाकर मुफ्त में औषधीय पौधे ले सकता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार 26 जून से 11 जुलाई तक एक मेगा वृक्षारोपण अभियान/वन महोत्सव भी आयोजित करेगी और शहर भर में 33 लाख से अधिक पौधे लगाएंगी। इस मेगा प्लांटेशन ड्राइव में दिल्ली के सभी कैबिनेट मंत्री, दिल्ली विधानसभा के स्पीकर, विधायक, गैर सरकारी संगठन और आरडब्ल्यूए शामिल होंगे।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की नर्सरी में जो औषधीय पौधे उपलब्ध हैं उसमें आंवला, अमरूद, अर्जुन, जामुन, नीम, तुलसी इत्यादि हैं। गोपाल राय ने कहा कि हमनें एक ब्रोशर भी प्रकाशित किया हैं जिसमें इन औषधीय पौधों के बारे में सभी आवश्यक जानकारी है। उन्होंने कहा दिल्ली सहित उत्तर भारत के वायु प्रदूषण का कारण कई अन्य कारक हैं। एनसीआर में लगभग 10 थर्मल पावर प्लांट हैं जो इस प्रदूषण के प्रमुख योगदानकर्ताओं में से एक हैं। दिल्ली सरकार ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है।

गोपाल राय ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार द्वारा किए गए अथक कार्यों से हमें दिल्ली के वायु प्रदूषण को 25 फीसद तक कम करने में मदद मिली है। मुझे विश्वास है कि दिल्ली के नागरिक इस बार भी मेगा प्लांटेशन ड्राइव को सफलतापूर्वक चला पाएंगे। आज मैं दिल्ली के नागरिकों से अपील करना चाहता हूं कि हर नागरिक एक पेड़ लगाए। यह हमारा जीवन है। इसलिए इस अभियान का नाम “एक पौधा जिंदगी के नाम" रखा गया है। मैं दिल्ली के सभी नागरिकों से भी अपील करूंगा कि जन्मदिन या वर्षगांठ के अवसर पर कृपया एक पौधा लगाएं।

दिल्ली सरकार दिल्ली के नागरिकों के साथ मिलकर इस अभियान को एक जन आंदोलन के रूप में चलाएगी और इसे सफल बनाएगी।