तृणमूल नेता अभिषेक बनर्जी को थप्पड़ मारने वाले देवाशीष आचार्य की रहस्यमय मौत


अभिषेक बनर्जी को थप्पड़ मारने वाले देवाशीष आचार्य की हत्या।

आरोप- भाजपा ने तृणमूल पर लगाया हत्या का आरोप सीबीआइ जांच की मांग। ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को 2015 में मंच पर थप्पड़ मारने वाले युवक देवाशीष आचार्य की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई है।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। ममता बनर्जी के सांसद भतीजे व तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी को 2015 में मंच पर थप्पड़ मारने वाले युवक देवाशीष आचार्य की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई है।देवाशीष ने हाल में संपन्न बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन किया था। भाजपा ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर देवाशीष की हत्या का आरोप लगाते हुए मामले की सीबीआइ जांच की मांग की है। बताया जा रहा है कि गुरुवार रात को देवाशीष पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया था, जिससे उनके सिर पर काफी गंभीर चोटें आईं और उनकी मौत हो गई। रहस्यमय हालत में उनका शव मिलने से हत्या की आशंका जताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गौरतलब है कि देवाशीष आचार्य साल 2015 में उस समय सुर्खियों में आए थे जब उन्होंने पूर्व मेदिनीपुर जिले में एक राजनीतिक कार्यक्रम में अभिषेक बनर्जी को भरी जनसभा में मंच पर ही थप्पड़ जड़ दिया था। हालांकि इस घटना के बाद अभिषेक की तरफ से कहा गया था कि उन्होंने देवाशीष को माफ कर दिया है।

इस घटना का वायरल वीडियो में साफ तौर पर देखा गया था कि थप्पड़ मारने के बाद देवाशीष को मंच पर मौजूद कुछ तृणमूल समर्थकों ने बुरी तरह से पीटा था। इसके कारण उस समय कई दिनों तक देवाशीष को अस्पताल में जिंदगी व मौत से जूझना पड़ा था। अब गुरुवार को उनपर हमले और उससे उनकी मौत ने इस मामले को एक बार फिर से गरमा दिया है।

भाजपा इस घटना के बाद हमलावर है और उन्होंने सीधे तौर पर इसे हत्या बताते हुए तृणमूल कांग्रेस को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि तृणमूल ने भाजपा के आरोपों को खारिज करते हुए इसके पीछे हाथ होने से इन्कार किया है।