जेएनयूमें बवालः छात्रों ने लाइब्रेरी में की तोड़फोड़; मना करने पर सुरक्षाकर्मियों को पीटा

 


Jnu लाइब्रेरी में हुई तोड़फोड़, मौके पर मौजूद अधिकारी व सुरक्षा गार्ड

जेएनयू में छात्रों पर पुस्तकालय में तोड़फोड़ करने का आरोप लगा है। आरोप है कि कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की गई। जेएनयू प्रशासन की तरफ से आरोपित छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है.

नई दिल्ली,  संवाददाता। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में लाइब्रेरी खुलवाने को लेकर चल रहा छात्रों का प्रदर्शन मंगलवार देर रात हिंसक हो गया। मंगलवार देर रात तमाम छात्र लाठी-डंडा लेकर लाइब्रेरी के बाहर पहुंचे और सुरक्षाकर्मियों को पीटना शुरू कर दिया। आरोपितों ने लाइब्रेरी में भी जमकर तोड़फोड़ की। जेएनयू प्रशासन की शिकायत पर वसंतकुंज नॉर्थ थाना पुलिस ने पांच छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एफआइआर में पांच छात्रों को नामजद किया गया है। वहीं, पुलिस सीसीटीवी फुटेज से अन्य आरोपितों की पहचान में जुटी है।

पुलिस के अनुसार, जेएनयू प्रशासन की ओर से सुरक्षा अधिकारी केपी सिंह ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया है कि उन्हें मंगलवार रात सूचना मिली कि 35-40 छात्र लाइब्रेरी के बाहर जमा हो गए हैं और जबरन लाइब्रेरी खोलने की जिद कर रहे हैं। केपी सिंह 15-16 सुरक्षाकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा सभी छात्र हंगामा कर रहे थे। सुरक्षाकर्मियों ने घेरा बनाकर आरोपितों को लाइब्रेरी तक पहुंचने से रोका रखा था। कुछ छात्र सुरक्षाकर्मियों के साथ धक्कामुक्की करने लगे और लाठी-डंडे से गेट तोड़ने का प्रयास करने लगे। इससे लाइब्रेरी का शीशे का एक साइड का हिस्सा टूट गया।

कई छात्रों ने किया लाइब्रेरी पर कब्जा

सुरक्षाकर्मियों ने इस गेट को घेर लिया तो छात्र अन्य दो गेटों पर पहुंचे और वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों की पिटाई कर दी। कुछ छात्र गेट तोड़कर जबरन लाइब्रेरी में घुस गए। सुरक्षाकर्मियों ने अंदर घुसे छात्रों रूपेश, पवन, हर्षिता, सन्नी दयाल और धापू सोनी को पकड़ लिया। कई छात्रों ने लाइब्रेरी पर कब्जा जमा लिया। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।पुलिस के अनुसार, घटना आठ जून की है और विश्वविद्यालय के मुख्य सुरक्षा अधिकारी की शिकायत पर बुधवार को मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने कहा कि मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।