जानिए कौन है मुकेश सुर्यान, जो बनेंगे दक्षिणी दिल्ली के महापौर

 


दक्षिणी निगम के भाजपा महापौर प्रत्याशी मुकेश सुर्यान

दक्षिणी निगम के महापौर बनने वाले मुकेश सुर्यान 1998 में आइटी का कोर्स करने दिल्ली में आए थे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत में जन्में सुर्यान फिर यही से आइटी का काम करना शुरू कर दिया और वह दिल्ली में ही बस गए।

नई दिल्ली। भाजपा ने तीनों निगम के महापौर और उप महापौर पद के लिए प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। उत्तरी में राजा इकबाल सिंह महापौर प्रत्याशी घोषित किए गए हैं तो वहीं दक्षिणी में मुकेश सुर्यान और पूर्वी दिल्ली में श्याम सुंदर अग्रवाल। अब तीनों अपने-अपने निगम की सदन की बैठक में 16 जून को महापौर चुने जाएंगे। भाजपा के पास बहुमत हैं तो इसलिए हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी महापौर निर्विरोध चुने जाएंगे।  मुकेश सुर्यान ने सिविक सेंटर में मंगलवार को अपना नामांकन भी कर दिया। 

बात करें दक्षिणी निगम के महापौर बनने वाले मुकेश सुर्यान की तो वह 1998 में आइटी का कोर्स करने दिल्ली में आए थे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत में जन्में सुर्यान फिर यही से आइटी का काम करना शुरू कर दिया और वह दिल्ली में ही बस गए। वह छात्र जीवन से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक थे तो दिल्ली में आने के बाद वह बिना पद के ही भाजपा के मंडल और जिले की टीम में काम करने लग गए।

वर्ष 2009 में मुकेश सूर्यान को मिला दिल्ली युवा मोर्चा में मौका

वर्ष 2009 में मुकेश सूर्यान पहली बार भाजपा दिल्ली के युवा मोर्चा अध्यक्ष नकुल भारद्वाज की टीम में मंत्री बने थे। इसके बाद वह युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग ठाकुर की टीम में कार्यकारिणी के सदस्य बने और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी बने। वर्ष 2014 में सुर्यान ने पश्चिमी दिल्ली से सांसद प्रवेश वर्मा का चुनावी वार रूम संभाला था। वहीं लखनउ में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का चुनाव का काम भी देखा था।

2017 में निगम पार्षद चुने गए थे मुकेश

मुकेश सुर्यान वर्ष 2017 में निगम पार्षद चुने गए थे। इसके बाद उन्हें नजफगढ़ जोन का दो बार चेयरमैन बनाया गया। वहीं, पिछले साल शिक्षा समिति का अध्यक्ष बनाया गया। इसके बाद अब मेयर बनने जा रहे हैं।