पाकिस्तान के फिल्मकारों को दी नसीहत, कहा- 'बॉलीवुड की न करें नकल, ओरिजनल कंटेंट पर दें ध्यान...'

 


पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, Instagram: imrankhan.pti

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश के फिल्मकारों को बॉलीवुड की नकल न करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि ओरिजनल कंटेंट पर ध्यान दें। यह बात इमरान खान ने इस्लामाबाद में आयोजित एक शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल के कार्यक्रम में कही है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश के फिल्मकारों को बॉलीवुड की नकल न करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि ओरिजनल कंटेंट पर ध्यान दें। यह बात इमरान खान ने इस्लामाबाद में आयोजित एक शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल के कार्यक्रम में कही है। रविवार को वह इस आयोजन में पहुंचे। इमरान खान ने कहा है कि पाकिस्तानी सिनेमा ने शुरुआत में भारतीय सिनेमा की नकल की।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, 'शुरुआत में गलतियां की गईं क्योंकि पाकिस्तानी फिल्म इंडस्ट्री बॉलीवुड से प्रभावित थी। जिसके चलते एक संस्कृति की नकल की गई और उसे अपनाया गया।' पाकिस्तानी अंग्रेजी वेबसाइट डॉन की खबर के अनुसार इमरान खान ने कहा, 'सबसे महत्वपूर्ण बात जो मैं युवा फिल्मकारों से कहना चाहता हूं, वह यह है कि दुनिया में मेरे अनुभव के अनुसार केवल ओरिजनलिटी ही बिकती है। नकल की कोई कीमत नहीं होती है।'

पीएम इमरान खान ने पाकिस्तानी फिल्म इंडस्ट्री से सोचने का एक नया तरीका लाने का अनुरोध किया है। पाकिस्तान की लोकप्रिय संस्कृति में हॉलीवुड और बॉलीवुड के प्रभाव का जिक्र करते हुए इमरान खान ने कहा कि देश में लोग कथित तौर पर स्थानीय सामग्री को तब तक नहीं देखते हैं जब तक कि उसमें व्यावसायिक रूप से बदलाव न हो।

इमरान खान ने कहा, 'इसलिए मेरी सलाह है कि युवा फिल्म निर्माताओं को अपनी ओरिजनल सोच लाने की है और विफलता से डरने की नहीं है।' उन्होंने कहा, 'यह मेरे जिंदगी का अनुभव है कि जो हार से डरता है वह कभी जीत नहीं सकता।' इतना ही नहीं इमरान खान ने हॉलीवुड सिनेमा को अश्लील बताया है। उन्होंने कहा, 'हॉलीवुड से शुरू हुई अश्लीलता, बॉलीवुड में आई और फिर उस तरह की संस्कृति को यहां बढ़ावा दिया गया है।'

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने तुर्की के राष्ट्रपति से अनुरोध करते हुए कहा, 'मैंने इस समय तुर्की के राष्ट्रपति से अनुरोध करता हूं कि धारावाहिक 'एर्टुगरुल' को पाकिस्तान में लेकर आएं। इसकी एक वैकल्पिक संस्कृति है लेकिन यह लोकप्रिय है और लोग इसे देखते हैं।' इसके अलावा इमरान खान ने देश के उन फिल्मकारों की तारीफ की है जो पाकिस्तान की संस्कृति को दिखाने की कोशिश करते हैं।