पौड़ी के गैंठीछेड़ा में पैर फिसलने से झरने में गिरे भाई-बहन, दोनों की मौत

 

 संवाददाता, पौड़ी। पौड़ी जिले के विकासखंड कोट के गैंठीछेड़ा में झरने में गिरकर सिरोली गांव के भाई-बहन की मौत हो गई। घटना की सूचना पर स्थानीयों की मदद से उन्हें झरने से बाहर निकाल कर 108 की मदद से जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां चिकित्सकों ने दोनों भाई-बहन को मृत घोषित कर दिया। घटनाक्रम के बाद से सिरोली गांव में मातम छाया हुआ है।

तहसीलदार हरिमोहन खंडूड़ी ने बताया कि सिरोली गांव निवासी प्रमोद रावत की पुत्री सिया उम्र 16 वर्ष तथा बेटा अमन उम्र 15 वर्ष कुछ दिनों पूर्व ही अपने मामा के गांव रखूंण गए थे। बताया कि गुरुवार को करीब डेढ़ बजे दोनों भाई-बहन गैंठीछेड़ा की ओर घूमने गए थे। साथ में रिश्तेदार ईशा भी गई थी। तहसीलदार खंडूड़ी ने बताया कि गैंठीछेड़ा के समीप नमन का फैर फिसलने से वह झरना में जा गिरा।

भाई को बचाने के लिए बहन सिया भी झरने में गिर पड़ी। साथ गई ईशा ने घटना की जानकारी गढ़खेत बाजार में स्थानीयों को दी। जिस पर स्थानीयों ने दोनों बच्चों को झरने से बाहर निकाल कर इसकी सूचना राजस्व पुलिस को दी। जानकारी मिलने पर राजस्व पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। 108 की मदद से दोनों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां चिकित्सकों ने दोनों भाई-बहन को मृत घोषित कर दिया है। घटना के बाद से सिरोली गांव के अलावा रखूंण गांव में शोक की लहर है।