पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के समधी से बिहार में ठगी, आधार कार्ड पर खरीद लिया खाद

 


हरियाणा के पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव और लालू यादव। फाइल फोटो

पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने बताया कि पिछले दो महीने में तीन बार उनके फोन पर मैसेज आए कि उन्होंने खाद का 45 किलोग्राम का कट्टा खरीदा है जिसकी सब्सिडी भी उनको मिली है जबकि उनके द्वारा इस प्रकार की कोई खरीदारी नही की गई।

रेवाड़ी,  संवाददाता। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के समधी व हरियाणा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव के आधार कार्ड पर बिहार में तीन बार सब्सिडी पर खाद खरीदा गया है। पिछले दो माह में तीन बार उनके आधार नंबर पर बिहार में सब्सिडी लेकर खाद खरीदा गया है। मोबाइल पर मैसेज आने के बाद पूर्व मंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों को शिकायत भी की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने बृहस्पतिवार को पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल को शिकायत दी है।

कैप्टन ने कहा: शिकायत पर नहीं हुई कार्रवाई

पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने बताया कि पिछले दो महीने में तीन बार उनके फोन पर मैसेज आए कि उन्होंने खाद का 45 किलोग्राम का कट्टा खरीदा है, जिसकी सब्सिडी भी उनको मिली है, जबकि उनके द्वारा इस प्रकार की कोई खरीदारी नही की गई। जब पहली बार मैसेज आया तो उन्होंने उपायुक्त को फोन के माध्यम से इसकी जानकारी दी थी, लेकिन उनकी शिकायत पर कोई ध्यान नही दिया गया।

कैप्टन अजय यादव ने पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल को शिकायत देकर कानूनी कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार की सरकार में भ्रष्टाचार का खेल चल रहा है। सरकार इस तरीके से किसी का भी नंबर डालकर सब्सिडी दिखा देती है। इस भ्रष्टाचार की जांच होनी चाहिए।

पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने बताया कि उनके मोबाइल पर दो महीने में तीन बार सब्सिडी पर खाद खरीदने के आए मैसेज हैं। सब्सिडी का पैसा भी उनके खाते में आया है। इस मामले की शिकायत साइबर थाना में भी दी गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।