दूरियों के बावजूद Bumble पर कनेक्शन जुड़ा और कहानी बन गई

 

Bumble एक ऐसा अनोखा सोशल नेटवर्किंग ऐप है, जहां महिलाओं को प्राथमिकता दी जाती है
Bumble द्वारा हाल ही में किए गए एक बड़े राष्ट्रव्यापी सर्वे से यह पता चला है कि आधे से अधिक (54%) मुंबईकरों ने स्लो डेटिंग को प्राथमिकता दी यानी व्यक्तिगत रूप से किसी से मिलने से पहले उसे बेहतर तरीके से जानना।

महामारी ने हमारे जीवन को कई तरह से प्रभावित किया है, हालांकि सार्थक संबंध बनाने और प्यार पाने की इच्छा युवाओं में बनी रही। लॉकडाउन के बाद फेस टू फेस इंटरेक्शन बहुत कम हो गया, डेटिंग ने भी एक वर्चुअल रूप ले लिया, क्योंकि ज्यादातर युवाओं ने Bumble पर वीडियो और वॉयस कॉल का उपयोग करना शुरू कर दिया था। Bumble एक ऐसा अनोखा सोशल नेटवर्किंग ऐप है, जहां महिलाओं को प्राथमिकता दी जाती है। लॉकडाउन के बाद आज तक कई सिंगल्स ने इसी प्लेटफॉर्म पर अपना परफेक्ट मैच पाया है।

ऐसी ही एक कहानी है इशिता और ऋषभ की - दो युवा, जो Bumble पर मिले, बिरयानी के प्रति समान लगाव से जुड़े और हाल ही में इन्होंने शादी की। दोनों ने यह कभी `नहीं सोचा था कि वे वर्चुअल तरीके से शुरुआत करके किसी बंधन में बंध सकते हैं, लेकिन Bumble ने उनकी धारणा को बदल दिया। कई वर्चुअल डेट्स के बाद अक्टूबर 2020 में इशिता ने पहला कदम बढ़ाते हुए ऋषभ को डिनर पर चलने के लिए पूछा। यह पहला मौका था जब दोनों व्यक्तिगत रूप से मिले थे। इशिता कहती हैं, "छह महीने से अधिक समय तक वर्चुअल डेटिंग करने के बाद बिरयानी पर हुए उस डिनर डेट ने हमारे प्यार के रिश्ते पर मुहर लगा दी।" दोनों ने जून 2021 में शादी कर ली।

शुभांगी और मयंक की जोड़ी भी Bumble पर मैच हुई थी। उन्हें नहीं पता था कि जीवन में कई रास्तों से गुजरने के बाद भी उनका भाग्य उन्हें डेटिंग ऐप पर मिलने के लिए प्रेरित करेगा। अपनी बात कहते हुए मयंक कहते हैं, "हमारे बीच संयोगों की संख्या अनगिनत है, हमारी माँओं के एक ही शहर से होने से लेकर हमारे बचपन के दौरान एक ही अवसर में शामिल होने तक। "लखनऊ में दोनों अपनी पहली डेट के लिए मिले और लॉन्ग ड्राइव व मॉर्निंग वॉक के दौरान इनका प्यार धीरे-धीरे परवान चढ़ने लगा। सात महीने बाद, इस साल दोनों ने सगाई कर ली और 2022 में शादी की योजना बना रहे हैं।

Bumble द्वारा हाल ही में किए गए एक बड़े राष्ट्रव्यापी सर्वे से यह पता चला है कि आधे से अधिक (54%) मुंबईकरों ने 'स्लो डेटिंग' को प्राथमिकता दी, यानी व्यक्तिगत रूप से किसी से मिलने से पहले उसे बेहतर तरीके से जानना। सर्वे में शामिल पांच में से दो दिल्लीवासियों का मानना है कि वास्तविक रूप से किसी से मिलने से पहले उनके वीडियो या ऑडियो डेट पर जाने की संभावना अधिक होती है। ये कहानियां हमें बताती हैं कि कैसे धीरे-धीरे लेकिन लगातार, सिंगल भारतीयों ने अधिक गैर-पारंपरिक तरीके से प्यार पाने की संभावनाओं के बारे में सोचना शुरू कर दिया है।

भारत में ऑनलाइन डेटिंग एक आम बात होती जा रही है। Bumble इंडिया की कम्युनिकेशंस डायरेक्टर समरपिता समद्दर कहती हैं, "हम 2021 में डेटिंग और पार्टनर खोजने की संभावनाओं के बारे में आशान्वित और उत्साहित लोगों की एक उभरती हुई संख्या देख रहे हैं। लेकिन इसके साथ-साथ भविष्य के बारे में अभी भी घबराहट है। जैसे-जैसे सिंगल भारतीय डेटिंग के नए नियमों को एक्सपीरियंस करेंगे, हम भारत में अपने Bumble समुदाय को उनकी कहानियां लिखने और उनकी डेटिंग यात्रा की जिम्मेदारी लेने के लिए समर्थन देना जारी रखेंगे।”