कांग्रेस ने की व्यापारियों और नौकरीपेशा लोगों का हाउस टैक्स माफ करने की मांग, LG अनिल बैजल का लिखा खत

 


कांग्रेस ने की व्यापारियों और नौकरीपेशा लोगों का हाउस टैक्स माफ करने की मांग, LG अनिल बैजल का लिखा खत

कांग्रेस प्रवक्ता जितेंद्र कोचर जीतू ने एलजी अनिल बैजल को पत्र कर गुहार लगाई है कि कोरोना से व्यापारियों और नौकरीपेशा लोगों की हालत पतली हो चुकी है। ऐसे में महोदय से गुजारिश है कि वो दिल्ली नगर निगम द्वारा जो हाउस टैक्स लिया जाता है उसको माफ कर दें।

नई दिल्ली ।  पूर्व नेता सदन दिल्ली नगर निगम व पूर्व प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता जितेंद्र कोचर जीतू ने उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल को पत्र कर गुहार लगाई है कि कोरोना के कारण दिल्ली में व्यापारियों और नौकरीपेशा लोगों की हालत बहुत ही पतली हो चुकी है। ऐसे उपराज्यपाल महोदय से गुजारिश है कि वो दिल्लीवासियों से दिल्ली नगर निगम द्वारा जो हाउस टैक्स लिया जाता है, उसको माफ कर दिया जाए। इससे दिल्ली के लोगों को कोरोना के इस संकट में काफी राहत महसूस होगी। कांग्रेसी नेता ने कहा दिल्ली में व्यापार बिलकुल खत्म हो गया है। आज सबसे ज्यादा अगर हालत किसी की खराब है तो वह मध्य वर्ग है। उनको ना तो केंद्र सरकार की तरफ़ से और न ही दिल्ली सरकार की तरफ़ से कभी राहत मिलती है। आज लोगों के पास नौकरियां नहीं है एक साल से ऊपर हो गया लोग अपने घरों में बैठे हैं। युवाओं के पास काम नहीं है फिर आम लोग हाउस टैक्स कहां से भरेंगे। यह बहुत गंभीर विषय है।वहीं, भारतीय जनता पार्टी शासित दिल्ली नगर निगम से भी मांग है कि दिल्ली की जनता को यह राहत पैकेज दिया जाए। कोचर ने कहा कि 2020-21 का हाउस टैक्स माफ़ किया जाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि जो पैसा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राशन वितरण पर देना चाहते थे। उसी पैसे का कुछ हिस्सा अगर दिल्ली नगर निगम को अनुदान के रूप में दे दिया जाए तो दिल्ली के लोगों को हाउस टैक्स में बहुत बड़ी राहत मिल सकती है।

गौरतलब है कि पिछले तकरीबन ढाई महीने से कोरोना वायरस संक्रमण के चलते हालात बदतर हैं। कारोबार पूरी तरह से गति में नहीं आ रहे हैं, जिससे बहुत ज्यादा नुकसान उठाना पड़ रहा है।