दिल्ली में राजनिवास के बाहर धरने पर बैठे किसान नेता, कहा- LG अनिल बैजल को ज्ञापन दिए बिना नहीं जाएंगे


Kisan Andolan: दिल्ली में घुसने की कोशिश में 500 किसान प्रदर्शन, हरियाणा सीमा पर भारी पुलिस तैनात

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर सोनीपत के पास जमा करीब 500 प्रदर्शनकारी नरेला की ओर आगे बढ़ रहे हैं। उनके आगे एक ट्रैक्टर भी चल रहा है। फिलहाल सीमा पर तैनात दिल्ली पुलिस के जवानों ने उन्हें आगे जाने से रोक दिया है।

नई दिल्ली/सोनीपत । तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन के 7 महीने पूरे होने पर शनिवार को एनसीआर समेत देशभर में राजभवनों के बाहर किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। पंजाब और हरियाणा से दिल्ली आया 10 किसानों का प्रतिनिधिमंडल उपराज्यपाल अनिल बैजल से मिलना चाहता है, लेकिन अभी समय नहीं दिया गया है। वहीं, उपराज्यपाल द्वारा मिलने का समय नहीं दिए जाने के बाद राज निवास के नजदीक किसान नेता धरने पर बैठे हैं। किसान नेताओं का कहना है कि जब तक एलजी हमारा ज्ञापन नहीं लेंगे तब तक हम यहीं बैठेंगे। वहीं, किसानों के धरने पर बैठने पर भारी पुलिस बल मौके पर है। 

बताया जा रहा है कि दिल्ली में इस दौरान किसान राष्ट्रपति को ज्ञापन देने की भी तैयारी है। वहीं, दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर सोनीपत के पास जमा करीब 500 प्रदर्शनकारी नरेला की ओर आगे बढ़ रहे हैं। उनके आगे एक ट्रैक्टर भी चल रहा है। फिलहाल सीमा पर तैनात दिल्ली पुलिस के जवानों ने उन्हें आगे जाने से रोक दिया है। वहीं, प्रदर्शनकारी किसान दिल्ली में घुसने की जिद कर रहे हैं। उधर, दिल्ली पुलिस का कहना है कि सिर्फ 3 लोगों को जाने दिया जाएगा।

बताया जा रहा है कि देश की राजदानी दिल्ली में सांकेतिक तौर पर एक प्रतिनिधिमंडल राजभवन जा कर ज्ञापन सौंपेगा। किसान संगठनों का यह भी कहा है कि दिल्ली में कोई प्रदर्शन या मार्च नहीं होगा। इसके अलावा, किसान दिल्ली के गाजीपुर, टीकरी और सिंघु बॉर्डर पर शनिवार सुबह से ही धरना दे रहे हैं। 

इससे पहले शुक्रवार को ही भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा है कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान शनिवार को विभिन्न राज्यों के राज्यपालों को ज्ञापन सौंपकर इन कानूनों को वापस लिए जाने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के सात महीने पूरे होने के अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को संबोधित ये ज्ञापन दिए जाएंगे।

दिल्ली मेट्रो के 3 स्टेशन दोपहर 2 बजे तक बंद

दिल्ली मेट्रो ने किसान आंदोलन की आशंका के मद्देनजर येलो लाइन पर शनिवार को चार घंटे के लिए तीन मुख्य स्टेशन बंद रखने का निर्णय लिया है। डीएमआरसी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस के सुझाव पर, सुरक्षा कारणों से, येलो लाइन पर तीन मेट्रो स्टेशन- विश्वविद्यालय, सिविल लाइन्स और विधानसभा शनिवार सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक आम जनता के लिए बंद रहेंगे।