देश में फंसे बाहर पढ़ने वाले भारतीय छात्रों को MEA की मदद, जारी किए ये गाइडलाइंस

 


देश में फंसे बाहर पढ़ने वाले भारतीय छात्रों को MEA की मदद, जारी किए ये गाइडलाइंस

विदेश में पढ़ रहे भारतीय छात्र जो महामारी के कारण देश में फंसे हैं उनकी मदद के लिए विदेश मंत्रालय ने निर्देश जारी किया है। इसमें बताया गया है कि कहां सपर्क करने पर वे जल्द से जल्द अपना नियमित पाठ्यक्रम पूरा कर सकेंगे।

नई दिल्ली, एजेंसी। कोविड-19 महामारी के कारण देश में फंसे उन विद्यार्थियों की मदद के लिए विदेश मंत्रालय ने हाथ बढ़ाया है जो भारत से बाहर के देशों में पढ़ाई करते हैं। विदेश मंत्रालय ने कुछ इमेल एड्रेस दिए हैं जिनपर संपर्क कर तुरंत अपने नियमित पाठ्यक्रम से विद्यार्थी जुड़ सकेंगे।

केंद्रीय विदेश मंत्रालय की ओर से (MEA) सिलसिलेवार दिशानिर्देश जारी किया गया है ताकि विदेश में पढ़ने वाले भारतीय विद्यार्थियों को उचित दिशानिर्देश मिल सके और जितनी जल्द हो सके उनकी रुकी हुई पढ़ाई दोबारा शुरू हो। बता दें कि अमेरिका में नए सेमेस्टर की शुरुआत से पहले ऐलान किया गया है कि कोवैक्सीन और स्पुतनिक वी का डोज लेने वालों को दोबारा कोरोना वैक्सीन लेना होगा।

विदेश मंत्रालय ने जारी किए हैं ये निर्देश:-

- महामारी के कारण यदि पढ़ाई के लिए भारत से बाहर जाने में कठिनाई आ रही हो तो विदेश मंत्रालय से संपर्क करें।

- मंत्रालय के OIA-II डिविजन से संपर्क साधने को कहा गया है जहां ऐसे विद्यार्थियों को इमेल आइडी और मोबाइल नंबर आदि सबमिट करना होगा।

- OIA-II से संपर्क साधने के लिए दो इमेल एड्रेस us.oia2@mea.gov.in व so1oia2@mea.gov.in बताया गया। 

- विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ( Arindam Bagchi) ने ट्वीट में कहा कि विदेश में पढ़ रहे भारतीय विद्यार्थी महामारी कोविड-19 के कारण भारत में फंसे हैं। उन्हें OIA-II डिविजन के us.oia2@mea.gov.in व so1oia2@mea.gov.in पर अपना इमेल आइडी और मोबाइल नंबर देना होगा ताकि जल्द से जल्द वे अपनी पढ़ाई फिर से जारी कर सकें।