भोपाल गैस लीक कांड के पीड़ितों की विधवाओं को बतौर पेंशन मिलेगा अतिरिक्त 1000 रुपये, कैबिनेट ने दी मंजूरी

 


भोपाल गैस लीक कांड के पीड़ितों की विधवाओं को मिलेगा अतिरिक्त पेंशन

भोपाल गैस कांड में मरने वालों के परिजनों के लिए राज्य कैबिनेट ने आज एक अहम फैसला लिया है। गैस कांड की पीड़ितों की विधवाओं के लिए पेंशन की अतिरिक्त रकम का ऐलान किया गया है। गृहमंत्री ने बताया कि अब इन्हें हर माह 1000 रुपये दिए जाएंगे।

भोपाल, प्रेट्र। मध्यप्रदेश  कैबिनेट ने मंगलवार को भोपाल गैस लीक पीड़ितों की विधवाओं के लिए पेंशन की अतिरिक्त रकम को मंजूरी दी है। अब इन्हें पेंशन के तौर पर  हर माह अतिरिक्त 1000 रुपये दिए जाएंगे। यह जानकारी प्रदेश के गृहमंत्री ने नरोत्तम मिश्रा ने दी।

सरकार के प्रवक्ता नरोत्तम मिश्रा ने कैबिनेट मीटिंग के बाद रिपोर्टरों से बताया, ' सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तौर पर अतिरिक्त रकम के तौर पर यह दी जाएगी।' उन्होंने बताया कि यह फैसला वित्त मंत्रालय की ओर से आपत्ति जताए जाने के बावजूद लिया गया। वित्त मंत्रालय ने इन महिलाओं को और 1000 रुपये की रकम पेंशन के तौर पर देने के प्रस्ताव पर रोक लगाई थी।

नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि कमल नाथ की अगुवाई वाली पूर्व कांग्रेस सरकार ने 2019 में अतिरिक्त पेंशन को रोक दिया था। उन्होंने कहा कि 2013 में भाजपा सरकार ने पेंशन की शुरुआत की थी। अब मौजूदा सरकार में इसे फिर से शुरू किया जा रहा है। 

1984 के 2-3 दिसंबर की दरम्यानी रात को लीक हुए मिथाइल आइसोसाइनाइट गैस की वजह से 15,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड से लीक हुए इस जहरीले गैस के कारण 5 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए थे। उस वक्त यह प्लांट भोपाल के बाहरी इलाके में था।