दिल्ली में दरिंदगी : पति अस्पताल नहीं ले गया तो महिला ने 11 माह के मासूम की कर दी हत्या

 


दिल्ली में दरिंदगी : पति अस्पताल नहीं ले गया तो महिला ने 11 माह के मासूम की कर दी हत्या

महिला ने बेटे की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी क्योंकि बुखार से पीड़ित बेटे को पिता ने अस्पताल ले जाने से मना कर दिया था। पुलिस ने हत्या के आरोप में बच्चे की मां ज्योति को गिरफ्तार कर लिया है।

नई दिल्ली,  संवाददाता। दक्षिण दिल्ली के फतेहपुर बेरी के डेरा गांव में एक महिला ने आवेश में आकर अपने 11 माह के बेटे की गला घोटकर हत्या कर दी। इसके बाद पति पर ही बेटे की हत्या का आरोप लगाया। हालांकि, पुलिस की जांच में जो बात सामने आई, उसने हर किसी को हिलाकर रख दिया। महिला ने बेटे की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी, क्योंकि बुखार से पीड़ित बेटे को पिता ने अस्पताल ले जाने से मना कर दिया था। पुलिस ने हत्या के आरोप में बच्चे की मां ज्योति को गिरफ्तार कर लिया है।

दक्षिण जिले के पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर के मुताबिक नौ जुलाई की शाम 7:52 पर पुलिस को सूचना मिली कि डेरा गांव निवासी सतबीर अपने बेटे को एपेक्स अस्पताल ले गया है, जिसकी हत्या की गई है।

पुलिस अस्पताल पहुंची तभी दोबारा फोन आया और बताया गया कि बच्चे की हत्या मां ने की है। इसके बाद मुकदमा दर्ज कर एसएचओ कुलदीप सिंह के नेतृत्व में टीम ने मामले की जांच शुरू की। पुलिस टीम को पता चला कि दंपती एक दूसरे पर बेटे की हत्या का आरोप लगा रहे थे। इसके बाद सीसीटीवी फुटेज व काल रिकार्ड से पुलिस को पता चला कि सतबीर शाम छह बजे ही घर से बाहर चले गए थे। ऐसे में पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो ज्योति ने गुनाह कुबूल कर लिया। उसने बताया कि बच्चे को बुखार आ रहा था और सतबीर उसे अस्पताल नहीं ले जा रहा था। इसे लेकर दोनों में कहासुनी हुई, जिसके बाद गुस्से में आकर उसने चुन्नी से गला घोट कर बेटे की हत्या कर दी। इसके बाद उसने खुद भी जान देने का प्रयास किया, हालांकि हिम्मत नहीं जुटा सकी।

पुलिस को पूछताछ में उसने बताया कि सतबीर के साथ उसके संबंध अच्छे नहीं हैं। दोनों के बीच तनाव रहता था। उसने बताया कि वह जब 16 साल की थी, तभी 2011 में उसकी शादी सतबीर से हो गई थी। लेकिन सतबीर शादी के बाद से ही ज्योंति को पसंद नहीं करता था। इसे लेकर दोनों के बीच अक्सर झगड़ा होता रहता था। नौ जुलाई को भी दोपहर 3:30 बजे ज्योति का सतबीर से झगड़ा हुआ था।