क्या पीएम मोदी के खाने पर 7 साल में खर्च हुए 100 करोड़ रुपये? इस दावे की हकीकत यहां जानिए


विश्वास न्यूज को यह दावा अपने वॉट्सऐप फैक्ट चेकिंग चैटबॉट पर फैक्ट चेक के लिए मिला

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे कार्टून पर पर लिखा है कि सूचना के अधिकार (RTI) से पता चला है कि पीएम मोदी के खाने पर 7 साल में 100 करोड़ रुपये खर्च हुए। यह दावा सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हुआ।

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर अक्सर मशहूर राजनीतिक हस्तियों से जुड़े अजीबोगरीब दावे वायरल होते रहते हैं। ऐसा ही एक दावा पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर वायरल हुआ। सोशल मीडिया पर काफी यूजर्स एक कार्टून शेयर कर रहे हैं। यह कार्टून पीएम मोदी पर आधारित दिखाने की कोशिश की जा रही है।

कार्टून के साथ किया जा रहा ये दावा

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे कार्टून पर पर लिखा है कि सूचना के अधिकार (RTI) से पता चला है कि पीएम मोदी के खाने पर 7 साल में 100 करोड़ रुपये खर्च हुए। यह दावा सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हुआ। विश्वास न्यूज को यह दावा अपने वॉट्सऐप फैक्ट चेकिंग चैटबॉट पर फैक्ट चेक के लिए मिला।

पड़ताल का नतीजा क्या निकला

विश्वास न्यूज ने फैक्ट चेकिंग के जरूरी टूल्स और इंटरनेट पर ओपन सर्च के माध्यम से इस दावे की पड़ताल की। पड़ताल के नतीजें में ये पता चला कि पीएम मोदी के खाने का खर्च सरकारी खजाने से नहीं लिए जाता। पीएम मोदी ये खर्च स्वयं वहन करते हैं।विश्वास न्यूज की इस फैक्ट चेक स्टोरी को विस्तार से पढ़ने और झूठे दावे की पोल खोलने का स्टेप बाइ स्टेप प्रोसेस देखने के लिए यहां क्लिक करें।