दिल्ली सरकार की हेल्पलाइन पर मनोविज्ञानी दूर कर रहे तनाव


सुबह साढ़े सात बजे से रात साढ़े आठ बजे तक ली जा सकती है सलाह।

दिल्ली के सभी नागरिक और विशेषकर स्कूल कालेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थी पढ़ाई संबंधी तनाव पर ही नहीं भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक मुद्दों पर भी इस हेल्पलाइन नंबर पर काल कर परामर्श कर सकते हैं। फोन करने वालों की पहचान गोपनीय रखी जाएगी।

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। कोरोना महामारी ने लोगों के मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित किया है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने युवा हेल्पलाइन नंबर 180011688 और 10580 जारी किया है। दिल्ली के सभी नागरिक और विशेषकर स्कूल कालेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थी पढ़ाई संबंधी तनाव पर ही नहीं, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक मुद्दों पर भी इस हेल्पलाइन नंबर पर काल कर परामर्श कर सकते हैं। फोन करने वालों की पहचान गोपनीय रखी जाएगी।

दरअसल, कोरोना काल में बड़ी संख्या में लोग तनाव के शिकार हुए हैं। महामारी की दहशत के चलते लोग बदली हुई जीवनशैली के साथ तालमेल बैठाने में असहज महसूस कर रहे हैं। वहीं, युवा अपने करियर व भविष्य को लेकर चिंतित हैं। ऐसे में इस हेल्पलाइन के जरिये दिल्ली के युवा अपनी समस्या पर मनोविज्ञानी से निश्शुल्क सलाह ले सकेंगे।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार राजधानी के सभी नागरिकों के बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए प्रतिबद्ध है। युवा हेल्पलाइन नंबर पर सभी कार्य दिवसों पर सुबह साढ़े सात बजे से रात साढ़े आठ बजे तक मानोविज्ञानी से निश्शुल्क सलाह ली जा सकेगी। इस हेल्पलाइन पर अभी प्रतिदिन औसतन 250-300 काल आती हैं और दिल्ली सरकार के काउंसलर उनकी मदद कर उन्हें तमाम तरह की समस्याओं से निजात दिला रहे हैं।