अभिनेता रजनीकांत का अहम फैसला- अब राजनीति में नहीं आएंगे, रजनी मक्कल मंदरम भी खत्म

 

भविष्य में पॉलिटिक्स में नहीं आएंगे अभिनेता रजनीकांत

स्वास्थ्य कारणों से अभिनेता रजनीकांत ने पिछले दिनों राजनीति से दूरी बना ली थी। इस क्रम में आज सार्वजनिक तौर पर उन्होंने ऐलान किया कि अब राजनीति में आने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने रजनी मक्कल मंदरम को भी भंंग कर दिया।

 चेन्नई, एएनआइ। दक्षिण के मशहूर अभिनेता रजनीकांत (Rajinikanth) और राजनीति का लेकर लगाए जा रहे कयासों पर आज विराम लग गया। दरअसल उन्होंने आज राजनीति में न  आने के अपने अहम फैसले का सार्वजनिक तौर पर ऐलान कर दिया। उन्होंने अपने मंच रजनी मक्कल मंदरम को भी भंग कर दिया। उन्होंने कहा, 'भविष्य में राजनीति में आने की मेरी कोई योजना नहीं है।' 

इससे पहले उन्होंने कहा था कि वे रजनी  मक्कल मंदरम के पदाधिकारियों से बातचीत कर राजनीति में आने या न आने का फैसला करेंगे। बता दें कि आज वे अपने प्रशंसकों से भी मुलाकात करने वाले हैं। 2018 में अस्तित्व में आए रजनी मक्कल मंदरम को रजनीकांत की राजनीतिक पार्टी के लिए लॉन्च व्हिकल माना जाता था।

 पिछले साल के अंत में स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए अभिनेता ने राजनीति से दूरी बनाई थी। बता दें कि 2016 में उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था। अभिनेता ने ऐलान किया था कि वह राजनीति में नहीं आएंगे और पहले से यह भी घोषणा की गई थी कि राजनीतिक दल भी शुुरुआत नहीं करेंगे। उस समय एक पत्र जारी कर रजनीकांत ने लिखा था,'मैंने राजनीति में नहीं आने का फैसला किया है क्योंकि कोविड -19 के समय में चुनाव अभियान के दौरान लोगों से मिलना संभव नहीं है।' रजनीकांत ने कहा था, 'कुछ लोग राजनीति में मेरी एंट्री न करने के फैसले की आलोचना कर सकते हैं, मैं कोई जोखिम लेने के लिए तैयार नहीं हूं।' उन्होंने यह भी कहा था, 'मुझे पता है कि जब मैंने यह फैसला किया तो मुझे कितना बुरा लगा।' 

 एक फिल्म की शूटिंग के क्रम में टीम के कई सदस्य पॉजिटिव पाए गए थे जिसके बाद फिल्म निर्माता कलानिधि मारन ने शूटिंग को स्थगित करने का फैसला ले लिया था।