कोरोना से ठीक होने के तीन महीने बाद लें वैक्‍सीन

 

 

विश्‍वास न्‍यूज का 'वैक्‍सीन के लिए हां' अभियान

डॉक्‍टर संजीव ने दर्शकों के प्रश्‍नों का जवाब देते हुए बताया कि यदि आपका ऑक्‍सीजन 94 से नीचे जा रहा है तो तुरंत अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें। इसी तरह यदि बुखार छह दिन से ज्‍यादा या सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो अस्‍पताल का रूख करना चाहिए।

पटना, ऑनलाइन डेस्क। यदि कोई कोरोना बीमारी से रिकवर हो चुका है तो उसे तीन महीने बाद ही वैक्‍सीन का पहला डोज लेना चाहिए। अब तक की रिपोर्ट के अनुसार, देश में उपलब्‍ध तीनों वैक्‍सीन कोरोना के सभी म्‍यूटेंट में असरदार है। यह कहना है कि पटना एम्‍स के डॉक्‍टर संजीव कुमार का। डॉक्‍टर संजीव कुमार जागरण न्‍यूज मीडिया की फैक्‍ट चेकिंग वेबसाइट विश्‍वास न्‍यूज देशभर में 'वैक्‍सीन के लिए हां' अभियान में बोल रहे थे। सोमवार को पटना के नागरिकों के लिए खास वेबिनार का आयोजन किया गया।

डॉक्‍टर संजीव ने दर्शकों के प्रश्‍नों का जवाब देते हुए बताया कि यदि आपका ऑक्‍सीजन 94 से नीचे जा रहा है तो तुरंत अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें। इसी तरह यदि बुखार छह दिन से ज्‍यादा या सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो अस्‍पताल का रूख करना चाहिए। वरना स्थिति बिगड़ सकती है।

देशभर में कोरोना की वैक्‍सीन को बढ़ावा देने और इससे जुड़े दुष्‍प्रचार के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए एक खास वेबिनार का आयोजन किया गया। इसी कार्यक्रम में दर्शकों से रूबरू होते हुए डॉक्‍टर तपन कुमार ने कहा कि एक मत बन गया है कि वैक्‍सीन जरूर लेना चाहिए। वैक्‍सीन को लेकर समय-समय पर सरकार और अन्‍य एजेंसियों की ओर से गाइडलाइन जारी होती रहती है। हम सबको इसे फॉलो करना चाहिए। हम अपने स्‍तर पर लगातार लोगों को जागरूक कर रहे हैं। यह पूरे समाज की जिम्‍मेदारी है कि लोगों के मन से वैक्‍सीन के प्रति डर और भ्रांतियों को दूर करें। वैक्‍सीन लेना एक शुभ कार्य है।

विश्‍वास न्‍यूज की ओर से सोमवार को 'सच के साथी, वैक्‍सीन के लिए हां' मीडिया साक्षरता कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित फैक्ट चेकर्स के साथ वैक्‍सीनेशन से जुड़े विशेषज्ञों ने वैक्‍सीन को लेकर फैलाई जा रही भ्रांतियों और अफवाहों के प्रति लोगों को जागरूक किया। वेबिनार में वैक्‍सीन के बारे में विस्‍तार से बताते हुए फेक न्यूज की पहचान के तरीकों और इसके लिए ऑनलाइन उपलब्ध टूल्स के बारे में जानकारी दी गई। कार्यक्रम में डॉक्टर संजीव कुमार, विभागाध्यक्ष, कार्डियक सर्जरी एंड नोडर ऑफिसर कोविड-19, एम्स पटना और प्रोफेसर. डॉ. तपन कुमार शांडिल्य, प्रिंसिपल, कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स, आर्ट्स एंड साइंस, पटना, फॉर्मर वाइस चांसलर, नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी, पटना भी उपस्थित थे।

आइएफसीएन वैक्सीन ग्रांट प्रोग्राम के तहत विश्‍वास न्‍यूज देश के 12 बड़े शहरों के लिए 'सच के साथी, वैक्‍सीन के लिए हां' ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। कानपुर, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ, आगरा, पटना, मुजफ्फरपुर, रांची, जमशेदपुर, इंदौर और भोपाल के नागरिकों के लिए भी ऐसे ही वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है।