मुश्किल में घिरे दिल्ली के पूर्व विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा, कोर्ट ने कहा -देश छोड़कर न भागने पाएं

 


बड़ी मुश्किल में घिर दिल्ली के पूर्व विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा, कोर्ट ने कहा -देश छोड़कर न भागने पाएं

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को साफ-साफ तौर पर निर्देश दिया कि वह सुनिश्चित करे कि शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा देश छोड़कर न भागने पाएं।

नई दिल्ली,  संवाददाता। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया कि वह सुनिश्चित करे कि शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा देश छोड़कर न भागने पाएं। बता दें कि मनजिंदर सिंह सिरसा पर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति (डीएसजीपीसी) के महासचिव रहने के दौरान डीएसजीपीसी के धन का दुरुपयोग करने का आरोप है। इसकी जांच चल रही है।

 पटियाला हाउस कोर्ट के मेट्रोपालिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा ने कहा कि शिकायतकर्ता की ओर से व्यक्त की गई आशंका और उचित जांच के हित को देखते हुए जांच अधिकारी यह सुनिश्चित करे कि सिरसा भागने न पाएं। अदालत ने पुलिस को मामले में 26 जुलाई को प्रगति रिपोर्ट पेश करने का निर्देश देते हुए सुनवाई स्थगित कर दी।

याचिकाकर्ता भूपिंदर सिंह की तरफ से पेश हुए अधिवक्ता संजय एबट ने अदालत को बताया कि सिरसा पहले ही अपनी संपत्तियां बेच चुके हैं और उड़ान बहाल होते ही वह देश छोड़कर भाग सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जांच एजेंसी ने अब तक सिरसा को ऐसा करने से रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया है।

वहीं, पुलिस ने अदालत को बताया कि जांच में शामिल होने के कारण मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर (एलओसी) नहीं जारी किया गया है। इससे पहले अदालत ने दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) को भूपिंदर सिंह की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया था और ईओडब्ल्यू ने मामले में प्राथमिकी दर्ज की थी। भूपिंदर ने आरोप लगाया था कि वर्ष 2013 में डीएसजीपीसी के महासचिव रहने के दौरान सिरसा ने सार्वजनिक धन का गलत इस्तेमाल किया था।गौरतलब है कि मनजिंदर सिंह सिरसा रजौरी गार्डन सीट से 5 साल तक भारतीय जनता पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के विधायक भी रह चुके हैं।  इस दौरान उन्होंने लगातार आम आदमी पार्टी सरकार की नीतियों को विरोध किया था।