पूर्व ऑलराउंडर ने कहा, कोच रवि शास्त्री पर लटक रही तलवार इशारे साफ मिल चुके हैं


कप्तान विराट कोहली और गेंदबाजी कोच भरत के साथ मुख्य कोच रवि शास्त्री

रवि शास्त्री ने काफी अच्छा किया है लेकिन अगर जो मानक ट्रॉफी जीतना है तो फिर हमने अच्छा नही किया है। अगर जो भारतीय टीम ने टी20 विश्व कप की ट्रॉफी जीत ली तो फिर रवि शास्त्री को हटाना नामुमकिन हो जाएगा।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच की भूमिका में लंबे समय तक रहने के बाद भी आइसीसी ट्रॉफी दिलाने में नाकाम रवि शास्त्री की विदाई हो सकती है। सीनियर खिलाड़ियों के भरी टीम इंग्लैंड के दौरे पर है। वहीं टीम का एक दल श्रीलंका में वनडे और टी20 सीरीज खेलने पहुंची है। टीम की कप्तान शिखर धवन की दी गई है जबकि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को बनाया गया है। बीसीसीआइ के इस कदम के बाद से ही शास्त्री की छुट्टी की जाने की बातें सामने आ रही है।

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर रतिंदर सिंह सोढी ने इंडिया न्यूज पर बात करते हुए कहा कि राहुल द्रविड़ को श्रीलंका दौरे पर बतौर कोच भेजे जाना इशारा है। बोर्ड ने पूर्व दिग्गज को कोच की जिम्मेदारी दी और वहीं इंग्लैंड के टीम मैनेजमेंट द्वारा पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को भेजने की मांग ठुकाया गया। शास्त्री अब तक भारत को आइसीसी की ट्रॉफी दिलाने में नाकाम रहे हैं जिसके बाद अब वह दबाव में होंगे।

सोढ़ी ने कहा, "यह थोड़ा ज्यादा हो जाएगा यकीनन। यह कहना गलत होगा कि रवि शास्त्री ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। उन्होंने काफी अच्छा किया है लेकिन अगर जो मानक ट्रॉफी जीतना है तो फिर हमने अच्छा नही किया है। अगर जो भारतीय टीम ने टी20 विश्व कप की ट्रॉफी जीत ली तो फिर रवि शास्त्री को हटाना नामुमकिन हो जाएगा।"

आगे उन्होंने कहा, "इससे पहले उन्होंने काफी अच्छा काम किया है और ट्रॉफी जीतना ऐसी चीज है जिसका हम सभी को इंतजार है। मुझे लगता है कि ऐसा हो जाता है तो फिर हमारा मकसद पूरा हो जाएगा। लेकिन बात ये भी है कि आखिर में यह देखिए कि जिस तरह से राहुल द्रविड़ श्रीलंका कोच के तौर पर गए हैं और इंग्लैंड से दो अलग बल्लेबाजी को भेजने की मांग आने के बाद इसे ठुकराया गया आप इशारे तो कुछ मिल ही रहे हैं। अगर आप मेरे से पूछेंगे तो रवि भाई पर दबाव है।"